‘OBC लड़की हूं इसलिए टिकट नहीं मिला’ कांग्रेस की पोस्टर गर्ल ने पार्टी पर लगाए गंभीर आरोप

0
21


लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) में कांग्रेस (Congress) के टिकट वितरण पर सवाल उठने लगे हैं. राज्य में महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष प्रियंका मौर्य ने पार्टी के लोगों पर टिकट के लिए रिश्वत मांगने जैसे कई गंभीर आरोप लगाए हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) से होने के चलते उन्हें टिकट नहीं दिया गया. कांग्रेस ने गुरुवार को ही विधानसभा चुनाव के लिए 125 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की है. पार्टी ने 50 महिला उम्मीदवारों को मौका दिया है. मौर्य कांग्रेस की ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ कैंपेन की पोस्टर गर्ल भी रही हैं.

मौर्य ने शुक्रवार को सोशल मीडिया और इंटरव्यू के जरिए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘मैं दुखी हूं, क्योंकि क्षेत्र में मेरी कड़ी मेहनत के बाद भी यूपी विधानसभा चुनाव में मुझे टिकट नहीं मिला. मेरे चेहरे का इस्तेमाल ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ अभियान के लिए किया गया. मुझे एक लैंडलाइन कॉल आया और कॉल करने वाले मुझसे टिकट लिए रुपयों की मांग की, लेकिन मैंने मना कर दिया. मैंने सभी काम पूरे किए, लेकिन नॉमिनेशन पहले से तय थे और उस व्यक्ति को दे दिए गए, जो एक महीने पहले ही शामिल हुआ है. मैं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा को यह संदेश देना चाहती हूं जमीन पर ये सब हो रहा है.’

इसके बाद उन्होंने गांधी के सचिव संदीप सिंह पर रिश्वत मांगने के आरोप लगाए. मौर्य ने कहा, ‘उन्होंने (कांग्रेस) ने अभियान के लिए मेरे चेहरे, मेरे नाम और मेरे 10 लाख सोशल मीडिया फॉलोअर्स का इस्तेमाल किया है. लेकिन जब आगामी चुनाव के लिए टिकट की बात आई, तो वह किसी और को दे दिया गया. यह अन्याय है. यह सब पहले से तय था. मुझे टिकट नहीं मिला, क्योंकि मैं OBC लड़की हूं और प्रियंका गांधी के सचिव संदीप सिंह को घूस नहीं दे सकी.’

यह भी पढ़ें: UP Chunav 2022: बनते-बनते बिगड़ गई बात…अब अखिलेश का कुनबा मजबूत नहीं करेंगे चंद्रशेखर आजाद, अकेले लड़ेंगे यूपी चुनाव

मौर्य लखनऊ में सरोजिनी नगर सीट से चुनाव लड़ना चाहती थी. जबकि, पार्टी ने इस सीट पर रुद्र दमन सिंह को मौका दे दिया. इंडिया टुडे से बातचीत में उन्होंने कहा कि उन्होंने राजनीति में यह सोचकर कदम रखा था कि वे लोगों की मदद कर पाएंगी और चीजें बदल पाएंगी. वे कहती हैं, ‘मैं डॉक्टर हूं, जिसने सामाजिक कार्य किया है. सभी कहते थे कि मुझे टिकट मिलेगा. पार्टी ने कहा कि यह ऑब्जर्वर्स की रिपोर्ट के आधार पर तय किया जाएगा. ऑब्जर्वर्स ने मेरे नाम की सिफारिश की, लेकिन मुझे टिकट नहीं मिला.’

प्रियंका गांधी ने गुरुवार को उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया. पार्टी ने 2017 सामूहिक दुष्कर्म की पीड़िता की मां को चुनावी मैदान में उतारा है. कार्यकर्ता सदफ जफर को भी पार्टी ने टिकट दिया है. गांधी ने कहा, ‘उन्नाव से हमारी उम्मीदवार गैंगरेप पीड़िता की मां हैं. संघर्ष जारी रखने के लिए हमने उन्हें मौका दिया है. जिस ताकत ने उन्हें दबाया और उनका परिवार बर्बाद कर दिया, उनके पास अब वह ताकत होनी चाहिए.’

आपके शहर से (लखनऊ)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here