Operation Milap: 7 माह से गायब थी 17 साल की नाबालिग, दिल्ली पुलिस की ‘ऑपरेशन मिलाप’ टीम ने परिवार से मिलवाया

0
24


नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के ऑपरेशन मिलाप (Operation Milap) के तहत एक लापता बच्चे को उसके परिवार से मिलवाया गया है. दिल्ली पुलिस के साउथ-ईस्ट जिला (South East District) के एएचटीयू टीम ने 17 साल की उम्र के एक लापता बच्चे को उसके परिवार से मिलवाया है. जिले के एएचटीयू के एसआई जनक सिंह, एएसआई मुनेदर और सिपाही सोनू की टीम ने इस कार्य को किया है.

साउथ ईस्ट जिला पुलिस उपायुक्त आरपी मीणा के मुताबिक इस साल 9 जनवरी को थाना गोविंद पुरी में 17 वर्ष की एक नाबालिग लड़की के लापता होने की शिकायत प्राप्त हुई थी. तुरंत, थाना गोविंदपुरी में प्राथमिकी संख्या 22/2021 की धारा 363 आईपीसी की धारा 363 के तहत मामला दर्ज किया गया और लापता लड़की की तलाश शुरू की गई. लापता लड़की का पता देने वाले को लिए दिल्ली पुलिस की तरफ से 20000/- रुपये नगद ईनाम की घोषणा भी की गई.

उपायुक्त आरपी मीणा के मुताबिक लापता/अपहृत बच्चे का पता लगाने के कार्य को पूरा करने के लिए टीम ने सावधानीपूर्वक कार्य किया. टीम ने उसके करीबी दोस्त से मिली जानकारी पर कार्रवाई की. मिली जानकारी के आधार पर टीम ने दिल्ली के आनंद विहार रेलवे स्टेशन (Anand Vihar Railway Station) व अन्य इलाकों में उसकी तलाशी ली. बच्ची के नंबर को सर्विलांस पर रखा गया था.

गूगल मैपिंग और जिप नेट की मदद से एएचटीयू टीम ने बच्चे का पता लगाने की पूरी कोशिश की. बच्चे के संबंध में डोर टू डोर तक पूछताछ की गई. टीम को कड़ी मेहनत पर सफलता मिली. टीम ने 7 महीने बाद बदायूं यू.पी. से बच्ची को सुरक्षित पता लगाने में सफलता हासिल की. लापता बच्चे को आवश्यक कार्रवाई के लिए संबंधित जांच अधिकारी को सौंप दिया गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here