Oxygen Crisis: दिल्ली में इसी हफ्ते में एम्स, RML हॉस्पिटल समेत 5 जगह लगेगा ऑक्सीजन प्लांट

0
22


दिल्ली में DRDO 5 ऑक्सीजन प्लांट लगाएगा.

Delhi Oxygen Crisis: दिल्ली में कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन संकट को देखते हुए DRDO एम्स, आरएमएल समेत 5 जगहों पर लगाएगा ऑक्सीजन प्लांट. दो उपकरणों को AIIMS और RML हॉस्पिटल में लगाने का काम शुरू.

नई दिल्ली. राजधानी में कोरोना के बढ़ते संक्रमण और मरीजों के लिए ऑक्सीजन की कमी के बीच रक्षा मंत्रालय का संगठन DRDO इस हफ्ते के अंत तक 5 ऑक्सीजन प्लांट लगाएगा. रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन के मुताबिक कुल 500 ऑक्सीजन संयंत्र में से मई के पहले सप्ताहांत तक दिल्ली के इर्द-गिर्द पांच ऑक्सजीन संयंत्र स्थापित करेगा. रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को यह जानकारी दी. रक्षा मंत्रालय ने कहा, ‘‘ये संयंत्र अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) के ट्रॉमा सेंटर, डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल (RML), सफदरजंग अस्पताल, लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज और एम्स झज्जर, हरियाणा में स्थापित किए जाएंगे.’’ देश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर चल रही है. संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने से कई राज्यों में अस्पतालों में ऑक्सीजन, जरुरी दवाओं, उपकरणों और बेड की कमी हो गई है. रक्षा मंत्रालय ने कहा कि तय कार्यक्रम के मुताबिक पांच संयंत्रों में से दो के उपकरणों की खेप मंगलवार को दिल्ली पहुंच गई है. एम्स तथा आरएमएल अस्पताल में संयंत्र स्थापित किए जा रहे हैं. मंत्रालय ने बताया कि इन दो संयंत्रों के उपकरण की डीआरडीओ की प्रौद्योगिकी भागीदार कंपनी ट्राइडेंट न्यूमेटिक्स प्राइवेट लिमिटेड ने आपूर्ति की है और 48 संयंत्रों के उपकरणों के लिए ऑर्डर दिए गए हैं. डीआरडीओ ने 28 अप्रैल को कहा था कि वह पीएम-केयर्स कोष द्वारा किए गए आवंटन से अगले तीन महीने के भीतर चिकित्सकीय ऑक्सीजन के लिए 500 संयंत्र स्थापित करेगा. आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना मरीजों के लिए मेडिकल ऑक्सीजन के संकट को देखते हुए आज हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को कड़ी फटकार लगाई. अदालत ने ऑक्सीजन संकट को लेकर दायर याचिका की सुनवाई करते हुए यह भी टिप्पणी की कि केंद्र सरकार ने कोर्ट के निर्देशों की अवहेलना की है, इसलिए क्यों नहीं केंद्र के खिलाफ अवमानना का मामला चलाया जाए.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here