Pilibhit: नौगवां में रहस्यमयी बुखार से हुई मौतों पर सियासत, पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर ने कही ये बात

0
22


रिपोर्ट- सृजित अवस्थी

पीलीभीत. उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में 40 हजार की आबादी वाले नौगवां पकड़िया इलाके में रहस्यमयी मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. बीते 1 महीने में इस इलाके में तकरीबन दर्जन भर मौतों की खबर सामने आ चुकी है. ग्रामीणों का आरोप है कि स्वास्थ्य विभाग डेंगू के आंकड़े छुपा रहा है. वहीं स्वास्थ विभाग दूषित पानी को बीमारी का कारण बताते हुए अपना पल्ला झाड़ता नजर आ रहा है. इस बीच नौगवां पकड़िया में पहुंचे पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर ने सरकार और स्थानीय अधिकारियों पर जमकर निशाना साधा है.

पूरे मामले पर पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर ने तल्ख टिप्पणी करते हुए स्थानीय प्रशासन को दर्जन भर मौतों का जिम्मेदार बताया है. इसके साथ उन्होंने डीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि पूरे मामले में सरकार को दखल देते हुए जांच करनी चाहिए. डीएम पर विभागीय कार्रवाई भी करनी चाहिए.

नहीं थम रहा मौतों का सिलसिला
नौगवां पकड़िया में बुखार से पहली मौत लगभग एक माह पहले हुई थी. इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग गंभीर नहीं हुआ और स्थिति जस की तस बनी रही. जबकि सप्ताह भर पहले जब रहस्यमयी बुखार से मौतों का सिलसिला तेज हुआ, तब जाकर कहीं स्वास्थ विभाग व प्रशासन की नींद खुली. स्वास्थ्य विभाग ने इलाके में कैंप कर सैंपलिंग दवाएं वितरित करना शुरू किया.

ग्रामीणों का आरोप नहीं मिल रही रिपोर्ट
नौगवां पकड़िया के स्थानीय निवासियों ने बातचीत के दौरान बताया कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से कैंप कर जांच के लिए सैंपल तो लिया जा रहा है. हालांकि किसी को भी उनकी रिपोर्ट नहीं सौंपी जा रही है. ऐसे में अब लोगों के बीच डर की स्थिति बन रही है.

डर के साये में जी रहे हम लोग
नौगवां पकड़िया की निवासी रामवती ने बताया कि पूरे इलाके में ही गंदगी विकराल रूप ले चुकी है. जिसके चलते डेंगू फैल रहा है. लगातार हुई मौतों के बाद अब हम सभी लोगों को काफी डर लग रहा है कि, हमारे साथ भी कोई अनहोनी ना हो जाए.

सीएमओ सैंपलिंग का कर रहा दावा
पीलीभीत के सीएमओ डॉ. आलोक कुमार ने बताया कि इलाके में लगातार स्वास्थ विभाग की टीम घर-घर जाकर सेंपलिंग व दवा वितरण का काम कर रही है. बात रिपोर्ट की करें तो सैंपलिंग के दौरान ही लोगों को जांच के नतीजे बता दिया जा रहे हैं.

Tags: Dengue alert, Dengue death, Dengue fever, Pilibhit news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here