Positive Story: गाजियाबाद के CDO अब लॉन टेनिस में दिखाएंगे दम, सिविल सर्विसेज नेशनल के लिए हुआ चयन

0
55


विशाल झा/गाजियाबाद. उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के आईएएस अधिकारी विक्रमादित्य सिंह मलिक स्कूली दिनों में पढ़ाई के साथ-साथ खेल में भी अच्छे थे. विक्रमादित्य विभिन्न प्रकार के खेलों में अक्सर हिस्सा लेते रहते थे. अब गाजियाबाद के मुख्य विकास अधिकारी के तौर पर तैनात हैं. काम के भारी दबाव के बाद भी उन्होंने स्पोर्ट्स से अपना नाता नहीं तोड़ा. विक्रमादित्य का सलेक्शन नेशनल सिविल सर्विसेज की यूपी टीम के लिए हुआ है. लॉन टेनिस खेल के लिए विक्रम सिलेक्ट हुए हैं. अब अच्छा परफॉर्मेंस करने के लिए वह तैयारी कर रहे हैं.

दरअसल बचपन से ही विक्रम को लॉन टेनिस फेवरेट था. पढ़ाई के कारण कुछ सालों तक खेल से रिश्ता टूट गया था. लेकिन एक बार फिर विक्रम खेलों में अपना योगदान देना चाहते हैं. News 18 Local से बात करते हुए विक्रम ने बताया कि, अब पहले जैसी फिटनेस नहीं रही है, लेकिन मैं पूरी कोशिश करता हूं कि पहले की तरह फिट रहूं. स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का वास होता है.

कौन हैं विक्रमादित्य मलिक?
विक्रम चंडीगढ़ से ताल्लुक रखते हैं. वो एक सिविल सेवक परिवार से आते हैं. विक्रम के पिता का नाम युद्धवीर सिंह मलिक है, जो हरियाणा में आईएएस अधिकारी के तौर पर अपनी सेवाएं दे रहे हैं. वहीं इनकी मां एक लेखिका हैं. शुरू से ही विक्रम पढ़ाई और खेल में अच्छे रहे हैं. हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की पढ़ाई के दौरान उन्हें अच्छे अंक मिले थे. बेसिक शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने नालसार यूनिवर्सिटी, हैदराबाद से लॉ की डिग्री हासिल की. कुछ समय तक एक लॉ की कंपनी में भी काम किया.

साल 2012 का समय था जब इनकी बहन भी आईएएस अधिकारी बन गईं. अब घर में 2 सदस्य आईएएस अधिकारी बन गए थे. इस दौरान विक्रम को महसूस हुआ कि इन्हें भी परीक्षा की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए. विक्रम ने पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई के साथ यूपीएससी परीक्षा की तैयारी भी शुरू कर दी थी. दो बार यूपीएससी परीक्षा में असफलता जरूर मिली थी, जिसके बाद उन्हें काफी निराशा होने लगी. निराशा को हौसला में तब्दील कर साल 2017 में विक्रम ने अपना सपना पूरा किया और पूरे देश में 48वीं रैंक हासिल कर आईएएस अधिकारी बन गए.

Tags: Ghaziabad News, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here