Prayagraj assembly election:-प्रयागराज की इन वीआईपी सीटों पर है दोबारा रण जीतने की चुनौती,मतदाता रविवार को करेंगे फैसला

0
83


प्रयागराज में पांचवें चरण में 27 फरवरी को मतदान होना है.प्रयागराज की 12 विधानसभाओं के सभी 169 प्रत्याशियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी जीत का सेहरा पहनने के लिए.बात करें पिछले विधान सभा चुनाव 2017 की तो प्रयागराज की 12 विधानसभाओं में से 9 सीटों पर भाजपा ने अपना कमल खिलाया था.वर्तमान में भाजपा के प्रत्याशियों के लिए दोबारा उस सीट को जीतने की चुनौती है.बीजेपी ने 9 विधानसभाओं में से कई सीटों पर दोबारा प्रत्याशियों पर भरोसा जताते हुए उन्हें मैदान में उतारा है.ऐसे में उन प्रत्याशियों के सामने दोबारा विधानसभा के रण को जीतने की चुनौती है. प्रयागराज की वीआईपी सीट में शामिल शहर पश्चिमी और शहर दक्षिणी से विधायक रह चुके सिद्धार्थ नाथ सिंह और नंद गोपाल गुप्ता नंदी क्रमश: दोबारा इस सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं और उन पर दोबारा चुनाव जीतने की चुनौती है.दोनों ही प्रत्याशी पूर्व में यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं.ऐसे में क्या इनके द्वारा किए गए पिछले 5 सालों के कामों से जनता संतुष्ट है इसका जवाब प्रयागराज की जनता 27 फरवरी को देगी.

शहर पश्चिमी और शहर दक्षिणी में है कांटे की टक्कर, मैदान में उतरे हैं दिग्गज नेता
शहर पश्चिमी और शहर दक्षिणी विधानसभा दोनों ही प्रयागराज की वीआईपी सीटों में शामिल हैं.तो चलिए जानते हैं क्या रहा है इन दोनों सीटों का इतिहास और वर्तमान में कौन-कौन से प्रत्याशी हैं मैदान में

शहर पश्चिमी( west assembly)-
शहर पश्चिमी में वर्तमान में 4 लाख,58 हजार,876 मतदाता हैं जो यहां के प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे.वर्तमान में यहां से 12 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं.भाजपा से सिद्धार्थ नाथ सिंह,समाजवादी पार्टी से रिचा सिंह मैदान में हैैं.अगर बात करें पिछले विधानसभा चुनाव की तो यहां से बीजेपी से सिद्धार्थ नाथ सिंह ने समाजवादी पार्टी की दीक्षा सिंह को 25 हजार 336 वोटों की मार्जिन से हराया था.इस बार समाजवादी पार्टी ने दोबारा से रिचा सिंह को अपने प्रत्याशी के तौर पर खड़ा किया है,ऐसा माना जा रहा है कि दोनों में कांटे की टक्कर होगी.

शहर दक्षिणी( south assembly)-
शहर दक्षिणीविधानसभा में प्रयागराज का औद्योगिक भाग मुख्य रूप से शामिल है.यहां के चार लाख आठ हजार मतदाता यहां के प्रत्याशी के भाग्य का फैसला 27 फरवरी को करेंगे.नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने 2017 में बीजेपी से यहां पर जीत हासिल की थी और वर्तमान में दोबारा मैदान में हैं.ऐसे में उनके सामने अपने विधानसभा सेदोबारा जीतने की चुनौती है.जीत का सेहरा पहनने के लिए वह कचौड़ी और पकौड़ी बनाते भी नजर आये.इसके साथ ही प्रतिद्वंदी के रूप में समाजवादी पार्टी से रईस चंद्र शुक्ला प्रमुख बताए जा रहे हैं इसके अलावा 10 अन्य प्रत्याशी भी इस विधानसभा से मैदान में हैं.

(रिपोर्ट-प्राची शर्मा, प्रयागराज)

आपके शहर से (इलाहाबाद)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: UP Election 2022



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here