rajasthan chief minister ashok gehlot cabinet First meeting important decision regarding school increase covid 19 cases know details

0
18


जयपुर. राजधानी जयपुर (Jaipur) में गहलोत कैबिनेट (Gehlot Cabinet Meeting) की बुधवार को पहली बैठक हुई. सीएम अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं.  हाल ही में हुए मंत्रिमंडल पुनर्गठन (Rajasthan Cabinet Expansion) के बाद मंत्रिपरिषद की यह पहली बैठक थी. बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि आम लोगों की अपेक्षाओं को पूरा करने और प्रदेश के चहुंमुखी विकास के लिए तीन साल में राज्य सरकार ने कई महत्वपूर्ण योजनाएं और कार्यक्रम लागू किए हैं. जमीनी स्तर तक सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए.

बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि सभी मंत्री सप्ताह के पहले तीन दिन यानी सोमवार, मंगलवार और बुधवार को जयपुर में ही रहकर जनअभाव अभियोग सुनकर समस्याओं का निराकरण करेंगे और विभागीय योजनाओं की नियमित समीक्षा करेंगे. इसके साथ ही प्रभारी मंत्री हर महीने कम से कम 2 दिन जिलों में दौरा करेंगे. इस दौरे में मंत्री अभियानों, योजनाओं, जन घोषणा, बजट घोषणाओं आदि की मॉनिटरिंग करेंगे.

शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलेगा

बैठक में तय किया गया कि एक जनवरी से पूरे प्रदेश में शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलेगा. बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि मिलावटखोरी बर्दाश्त नहीं होगी और मिलावटखोरों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. वहीं सरकार की तीसरी वर्षगांठ पर होने वाले आयोजन को लेकर भी बैठक में चर्चा हुई. सरकार की तीसरी वर्षगांठ पर आम लोगों को विभिन्न शिलान्यास और लोकार्पण की सौगात मिलेगी. वहीं  24 और 25 जनवरी को इन्वेस्ट राजस्थान समिट का आयोजन होगा. मुख्यमंत्री ने सभी विभागों को निर्देश दिए कि समिट में प्राप्त होने वाले निवेश प्रस्तावों को पूर्ण समन्वय और समयबद्धता के साथ पूर्ण करने के निर्देश दिए.

ये भी पढ़ें: Rajasthan: 4 जिलों में पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान, 3 चरणों में होगी वोटिंग, जानें डिटेल
कोरोना संक्रमण को लेकर चर्चा

बैठक में स्कूलों में सामने आ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को लेकर भी चर्चा हुई. शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने क्षण संस्थानों को लेकर कोविड गाइडलाइन की जानकारी दी. मंत्रिपरिषद ने जोर दिया कि कोविड महामारी के प्रसार को रोकने के लिए सतर्कता तथा कोविड अनुशासन की निरन्तर पालना करना जरूरी है. विगत दिनों में कोरोना संक्रमण के मामलों में कुछ वृद्धि हुई है. विद्यालयों में भी कोविड संक्रमण के मामले आए हैं जिस पर राज्य सरकार चिंतित है और प्रदेश में मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर को लगातार मजबूत किया जा रहा है. बैठक के बाद मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि स्कूलों में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन पढ़ाई भी शुरू करवाई जाएगी. जो स्कूल इसका पालना नहीं करेंगे उन पर कार्रवाई होगी.

Tags: Ashok gehlot, Central cabinet meeting, Jaipur news, Rajasthan news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here