RRB-NTPC Results: प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले रेल मंत्री, रेलवे आपकी संपत्ति है, इसको संभालकर रखें | Railway Minister appeal to students not to damage railway property | Patrika News

0
206


RRB-NTPC Results: केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने प्रैस कॉन्फ्रेंस कर कहा, “मैं अपने छात्र मित्रों से निवेदन करना चाहूंगा कि रेलवे आपकी संपत्ति है, आप अपनी संपत्ति को संभालकर रखें। आपकी जो शिकायतें और बिंदू अब तक उभर कर आए हैं उन सबको हम गंभीरता से देखेंगे।”

RRB-NTPC Results: रेलवे परीक्षा में धांधली के आरोपों के बाद बिहार और उत्तर प्रदेश के छात्र लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। बिहार की राजधानी पटना से शुरू हुआ ये विरोध प्रदर्शन अब सुर्खियों में आ गया है। यूपी के प्रयागराज में भी अभ्यर्थी छात्रों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया, इस दौरान पुलिस ने छात्रों पर कई जगह लाठीचार्ज भी किया।छात्रों के विरोध प्रदर्शन ने उग्र रूप लिया और आज बुधवार यानी (26 जनवरी) को बिहार में गया रेलवे जक्शन के आउटर सिग्नल पर खड़ी एमटी ट्रेन के कोच में आग लगा दी। इस मामले पर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपना बयान जारी किया है।

क्या बोले रेल मंत्री:
केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, “इतनी बड़ी संख्या में परिक्षार्थी हों तो एक बार में परीक्षा लेना कठिन है, इस वजह से दो लेवल किया गया था। फिर भी हम अब इस पर विचार कर रहे हैं।” अश्विनी वैष्णव ने कहा, “मैं अपने छात्र मित्रों से निवेदन करना चाहूंगा कि रेलवे आपकी संपत्ति है, आप अपनी संपत्ति को संभालकर रखें। आपकी जो शिकायतें और बिंदू अब तक उभर कर आए हैं उन सबको हम गंभीरता से देखेंगे। कोई भी छात्र कानून को हाथ में न ले।”

छात्रों को भ्रमित न करने की अपील:
रेल मंत्री ने आगे कहा, कुछ लोग इसका गलत फायदा उठा रहे हैं, मैं उनसे निवेदन करूंगा कि छात्रों को भ्रमित न करें। ये छात्रों, देश का मामला है, इसको हमें संवेदनशीलता से लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें

RRB-NTPC Result : गुस्साए छात्रों का बवाल जारी, गया में पैसेंजर ट्रेन में आग लगाई और स्टेशन पर किया पथराव

NTPC और लेवल वन परीक्षा पर फिलहाल रोक, हाईपावर कमेटी का गठन:
आपको बता दें कि NTPC रिजल्ट को लेकर उत्तर प्रदेश और बिहार में अभ्यर्थियों के व्यापक विरोध-प्रदर्शन को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने बड़ा फैसला किया है। रेल मंत्रालय ने NTPC और लेवल वन परीक्षा पर फिलहाल रोक लगा दी है। इसके अलावा रेल मिनिस्ट्री ने एक हाई पावर कमेटी का गठन कर दिया है। यह कमेटी परीक्षा में पास और फेल हुए अभ्यर्थियों की शिकायत को सुनेगी और इसकी रिपोर्ट रेल मिनिस्ट्री को सौंपेगी।

उम्मीदवार 16 फरवरी,2022 तक अपनी शिकायत समिति के सामने रख सकते हैं। इसके बाद रेल मंत्रालय आगे का निर्णय लेगा। फिलहाल रेलवे की परीक्षा पर रेल मंत्रालय ने रोक लगा दी है। देशभर में 1.26 करोड़ छात्रों ने परीक्षा के लिए आवेदन किया था। उनका आरोप है कि परीक्षा के रिजल्ट में गड़बड़ी हुई है।

छात्रों की चिंता को लेकर गंभीर:
रेल मंत्री ने कहा कि हम छात्रों द्वारा उठाई गई शिकायतों और चिंताओं को लेकर गंभीर हैं और जल्द ही इस पर कार्रवाई की जाएगी। हमें एक समाधान खोजना होगा कि जिन लोगों को शॉर्टलिस्ट किया गया है, वे पीड़ित न हों, लेकिन जिन्हें शिकायतें हैं, उन्हें भी संबोधित किया जाएगा। कानून और व्यवस्था राज्यों की भूमिका है, हम राज्यों के साथ लगातार संपर्क में हैं। कमेटी बनाई गई है, कहीं-कहीं कई छात्रों ने सहमति भी दी है। उन्होंने छात्रों से अपील करते हुए कहा कि वे अपनी मांगों को औपचारिक रूप से रखें। इसकी जांच की जाएगी।

यह भी पढ़ें

रेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठित





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here