Sawan 2022: कानपुर के आनंदेश्वर मंदिर में सावन के पहले सोमवार को उमड़ी भक्तों की भीड़, जानें खासियतें

0
30


रिपोर्ट- अखंड प्रताप सिंह

कानपुर. सावन के पहले सोमवार में देशभर के शिवालयों में शिव भक्तों की भीड़ बाबा के दर्शन करने के लिए पहुंच रही है. वहीं,कानपुर महानगर में भी देर रात से ही शिवालयों में भक्त हर हर महादेव के नारे लगाकर बाबा के दर्शन कर रहे हैं. आपको बता दें कि कानपुर के सुप्रसिद्ध परमट स्थित आनंदेश्वर धाम में भी देर रात 2:00 बजे से मंगला आरती के बाद के भक्तों की भीड़ बाबा के दर्शन करने के लिए लाइनों में लगी हुई है. जबकि लोग दूर-दूर से बाबा के दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं.

कानपुर महानगर में गंगा किनारे स्थित परमट आनंदेश्वर मंदिर पर सावन के सोमवार में लाखों श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचते हैं. इस मंदिर की मान्यता है कि जो भी पांच सोमवार यहां पर दर्शन करता है उसकी हर मनोकामना पूरी हो जाती है. विशेषकर सावन के सोमवार पर यहां पर लाखों भक्त दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं. देर रात से ही कई किलोमीटर लंबी लाइनें लगी हुई हैं. परमट मंदिर से ग्रीन पार्क तक रात से ही भक्त लाइन में लगे हुए हैं.

2 साल बाद कर सकेंगे बाबा को स्पर्श
इस बार आनंदेश्वर मंदिर में भक्तों की भीड़ अधिक जुट रही है, जिसकी वजह यह भी है कि 2 साल बाद सावन में बाबा के स्पर्श करने का मौका भक्तों को मिलना है. दो साल से कोरोना की वजह से सावन में बाबा की स्पर्श करना पूरी तरीके से मना था, लेकिन इस बार हर श्रद्धालु बाबा के गर्भ गृह में जलाभिषेक के साथ बाबा को स्पर्श कर आशीर्वाद ले रहे हैं.

महाभारत काल से जुड़ा है मंदिर का इतिहास
न्यूज़ 18 लोकल से विशेष बातचीत में आनंदेश्वर मंदिर के महंत अरुण जी महाराज ने बताया कि इस मंदिर का इतिहास महाभारत काल से जुड़ा हुआ है, क्‍योंकि राजा कर्ण इस मंदिर में पूजा करने आते थे. वहीं, इस मंदिर को लेकर एक और कहानी भी प्रसिद्ध है. कहा जाता है यहां पर एक आनंदी नाम की गाय आती थी और अपना सारा दूध एक स्थान पर छोड़ देती थी. जब उस स्थान की ग्रामीणों द्वारा खुदाई की गई तब वहां से यह शिवलिंग निकला, तब से इस मंदिर का नाम आनंदेश्वर पड़ गया.

Tags: Kanpur ki khabar, Lord Shiva, Sawan, Sawan somvar



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here