Sawan 2022: सावन में ‘महादेव’ को करना चाहते हैं प्रसन्न तो अपनाएं ये 5 उपाय, पूरी होंगी मनोकामनाएं 

0
28


रिपोर्ट- अभिषेक जायसवाल

वाराणसी. भगवान भोले को सावन (Sawan) माह बेहद प्रिय है. इस साल 14 जुलाई से सावन का पवित्र महीना शुरू हो रहा है, जो 12 अगस्त तक चलेगा. शिव भक्त बाबा भोले के इस प्रिय माह में आसानी से उन्हें प्रसन्न कर उनकी कृपा प्राप्त कर सकते हैं. ऐसी मान्यता है कि भगवान शंकर के पूजन और जलाभिषेक से भक्तों के कुंडली के सारे दोष दूर हो जाते हैं और जीवन में सुख, शांति, समृद्धि और वैभव की प्राप्ति होती है.

वहीं, काशी के जाने माने विद्वान और ज्योतिषी कन्हैया महाराज ने बताया कि श्रावण मास में भगवान के दर्शन पूजन और जलाभिषेक का विशेष महत्व है. इससे भगवान शिव की कृपा भक्तों को मिलती है.

बेलपत्र के अर्पण से मिलेगा आशीर्वाद
सावन के सोमवार (Sawan Somwar 2022) पर यदि भक्त किसी भी शिव मंदिर में बाबा का जलाभिषेक कर उन्हें तीन या पांच पत्ती वाला बेलपत्र अर्पण कर चन्दन लगाकर उनकी पूजा करता है, तो भगवान शंकर का आशीर्वाद उन्हें प्राप्त होता है.

रुद्राभिषेक से दूर होंगे सारे कष्ट
इसके अलावा सावन मास में घर या मंदिर में रुद्राभिषेक करने से भी शिव की कृपा भक्तों को मिलती है. इससे भक्तों के सारे कष्ट दूर होने के साथ ही पापों से भी मुक्ति मिलती है.

गन्ने के रस से करिए अभिषेक
यदि आप शत्रुओं से परेशान है तो सावन माह के प्रत्येक सोमवार को गन्ने के जूस से भगवान शंकर के अभिषेक के बाद उनकी कपूर से आरती उतार आप उनकी कृपा पाने के साथ ही शत्रुओं पर विजय का आशीर्वाद भी प्राप्त कर सकते हैं.

भांग और धतूरा से बनेंगे सारे काम
बेलपत्र के साथ ही भगवान शंकर को भांग और धतूरा भी बेहद प्रिय है. ऐसे में जो भक्त सावन के महीनें में उन्हें हर दिन भांग और धतूरा चढ़ाता है और फिर उनका जलाभिषेक करता है उसे मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है.

परिवारिक कलह से मिलेगी मुक्ति
सावन में भगवान शंकर का गाय के दूध से अभिषेक करना चाहिए. उसके बाद उन्हें जल अर्पण कर रोली, चन्दन, बेलपत्र चढ़ाकर जो भी भक्त कपूर से उनकी आरती करता है. उसके घर में सुख शांति और समृद्धि के साथ परिवारिक कलह से मुक्ति मिल जाती है.

Tags: Sawan somvar, Varanasi news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here