SDMC ने श्मशान घाटों की क्षमता बढ़ायी, कोविड शवों के दाह संस्कार को रिजर्व किये 289 प्लेटफार्म

0
17


दक्षिणी निगम ने अपने सभी श्मशान घाट और कब्रिस्तान में विशेष प्रबंध किए है. (File Photo)

COVID-19 in Delhi: दक्षिणी निगम के सभी श्मशान घाटों में अंतिम संस्कार के लिए प्लेटफार्म की संख्या में बढ़ोतरी की गई है. श्मशान घाटों की कुल क्षमता को पहले 289 थी जिसे बढ़ाकर 365 किया गया है जिसमें से 289 प्लेटफार्म सिर्फ कोविड शवों के लिए रिजर्व कर दी गई हैं.

नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना (Corona) संक्रमण के कारण बढ़ती मौतों के मद्देनजर दक्षिणी निगम (South MCD) ने अपने सभी 9 श्मशान घाट और कब्रिस्तान में विशेष प्रबंध किए है. दक्षिणी निगम के सभी श्मशान घाटों में अंतिम संस्कार के लिए प्लेटफार्म की संख्या में बढ़ोतरी की गई है. श्मशान घाटों की कुल क्षमता को पहले 289 थी जिसे बढ़ाकर 365 किया गया है जिसमें से 289 प्लेटफार्म सिर्फ कोविड शवों (Covid Dead Bodies) के लिए रिजर्व कर दी गई हैं. इनमें से 229 लकड़ी और 30 सीएनजी प्लेटफार्म पर कोरोना मृतकों के शवों का अंतिम संस्कार किया जा सकता है.

Youtube Video

दक्षिणी निगम के पंजाबी बाग, हस्तसाल ,सुभाष नगर,लोधी रोड,सराय काले खान, लाल कुआँ, आई.टी.ओ , द्वारका सेक्टर 24 और ग्रीन पार्क स्थित श्मशान घाटों व कब्रिस्तान में एक दिन में 289 कोरोना मृतकों के शवों का अंतिम संस्कार किया जा सकता है.पंजाबी बाग, सुभाष नगर, लोधी रोड व ग्रीन पार्क शवदाह-गृहों में  मसीएनजी भट्टियों की सुविधा उपलब्ध है. इन श्मशान घाटों पर गैर-कोविड शवों के अंतिम संस्कार की व्यवस्था मुख्य स्थान से थोड़ी दूर अलग की गई है ताकि सामान्य शव लाने वाले संक्रमित न हो सके. श्मशान घाटों की उचित साफ-सफाई और स्वच्छता के लिए विशेष व्यवस्था की गई हैं क्योंकि यहाँ पर कोरोना संक्रमण का खतरा बहुत अधिक है. प्रशिक्षित सफाई सैनिकों को तैनात किया गया है ताकि घाटों  की नियमित साफ-सफाई व सेनेटाइजेशन हो सके. इसके अलावा चार हरे और नीले कूड़ेदान भी लगाए गए हैं. परिजनों की सुविधा के लिए श्मशान घाटों पर विशेष टैंट लगाए जा रहे हैं जहाँ वे बैठकर प्रतीक्षा कर सकते हैं.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here