Sex Worker PLFI Investor Inside Story; Dinesh GopeClose Aide Caught By Ranchi Police | ​​​​​​​बांग्लादेश से दिल्ली के रास्ते नक्सली के दिल में उतरी; अब दिल्ली संभाल रही थी अंजली

0
24


रांची10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

दिल्ली में होटल और रियल एस्टेट का धंधा अंजली संभाल रही थी।

रांची पुलिस ने पिछले एक सप्ताह में नक्सली संगठन पिपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (PLFI) के अर्थतंत्र को तबाह कर दिया है। खौफ के बल पर कमाई गई करोड़ों की रकम को रियल स्टेट और होटल कारोबार में लगाने वाले दिनेश गोप के करीबी निवेश कुमार सहित 8 लोगों की गिरफ्तारी हुई है।

इनके पास से 73 लाख रुपए कैश के साथ करोड़ की प्रॉपर्टी के कागज, लग्जरी गाड़ियां, दर्जनों मोबाइल, स्लिपिंग बैग समेत अत्याधुनिक हथियार की तस्वीरें मिली हैं। इन सबके बीच गिरफ्तारी में एक चौंकाने वाला नाम अंजली ऊर्फ लिली ऊर्फ कनिज फातिमा है।

रांची पुलिस की शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि वो निवेश की गर्लफ्रेंड है। पुलिस ने जब सख्ती से उससे पूछताछ की तो कई हैरान करने वाले तथ्य सामने आए हैं। अंजलि भारतीय नागरिक भी नहीं है। ये मूल रूप से बांग्लादेश की रहने वाली है।

दिनेश गोप का राइट हैंड माना जाता है निवेश।

देश के साथ नाम भी बदला
अंजली उर्फ लिली उर्फ कनिस फातिमा बांग्लादेश के खुलना की रहने वाली है। 7 साल पहले वह बांग्लादेश से पलायन कर दिल्ली पहुंची। देश के साथ उसने अपना नाम भी बदल लिया। यहां वो अंजलि के नाम से अपना पहचान बनाई। इसके बाद वह दिल्ली में सेक्स रैकेट के धंधे में शामिल हो गई।

दिल्ली में हुई थी निवेश और अंजली की मुलाकात
उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के करोड़ो की ब्लैक मनी को व्हाइट करने के लिए निवेश अक्सर दिल्ली जाया करता था। शराब और लड़कियों के शौकीन निवेश की मुलाकात इसी दौरान फातिमा उर्फ अंजली से हो गई। इसके बाद फातिमा धीरे-धीरे PLFI में अपनी पैठ बनाती चली गई।

रांची, दिल्ली और बिहार से दिनेश गोप के गुर्गों की गिरफ्तारी हुई है।

पत्नी बनकर लग्जरी गाड़ियों से पैसे सप्लाई करती थी
लेवी के पैसे से निवेश ने दिल्ली में होटल में खोला खुला था। इसकी पूरी जिम्मेदारी फातिमा के पास थी। निवेश अपने साथियों के साथ लगातार पीएलएफआई के द्वारा वसूली गई अकूत संपत्ति को रियल एस्टेट और होटल के कारोबार में लगा रहा था। इस दौरान वह लाखों रुपए के लेन-देन भी एक किया करता था। इस दौरान महंगी लग्जरी कार में वह फातिमा को पत्नी के रूप में बिठाकर घूमता था ताकि किसी को कोई शक न हो।

अंजली ने दावा- उसने निवेश से शादी की है
रांची के ग्रामीण SP नौशाद आलम ने दैनिक भास्कर को बताया कि उसका बांग्लादेशी होने का साक्ष्य मिला है। उन्होंने बताया कि पुलिस उसके पासपोर्ट व अन्य कागजातों की जांच कर रही है कि वह यहां वैध रूप से रह रही थी या अवैध। हालांकि पुलिसिया पूछताछ में उसने पुलिस को बताया है कि वो निवेश से शादी की है। फिलहाल उसे पुलिस हिरासत में रखा गया है।

खुलना से अवैध रूप से लोग करते हैं पलायन
खुलना बांग्लादेश का वह जगह जहां से लड़कियां बड़ी संख्या में जिस्मफरोशी के धंधे के लिए इंडिया लाई जाती हैं। झारखंड के कुछ जिलों में भी ऐसी लड़कियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। बांग्लादेश का खुलना वही जिला है जहां पिछले साल अल्पसंख्यक समाज के खिलाफ जमकर हिंसा हुई थी।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here