Shimla News now fabricated shop demolished in shimla hpvk

0
8


शिमला. हिमाचल प्रदेश में स्मार्ट सिटी शिमला के नाम पर राजधानी में किस तरह से पैसों की बर्बादी हो रही है, इसका अंदाज़ा आप सहज ही लगा सकते हैं. चंद माह पहले स्मार्ट सिटी शिमला के तहत सब्जी मंडी की दुकानों का जीर्णोद्धार कर प्री फेब्रिकेटेड दुकानें बनाई थी, जिसको लेकर एक व्यक्ति ने कोर्ट में याचिका दायर की थी. अब उन दुकानों को एक बार फिर से तोड़ा जा रहा है.

मामला दुकानों की ऊंचाई को लेकर था, जहां याचिकाकर्ता ने नियमों के विरूद्ध दुकानों की ऊंचाई ज्यादा कर दी थी. अब कोर्ट के आदेश पर दुकानों की ऊंचाई को कम किया जा रहा है.बता दें कि जहां इन दुकानों की ऊंचाई 16 फ़ीट थी, उसे अब 12 किया जा रहा है.

स्मार्ट सिटी के तहत हिमुडा ने किया है दुकानों का कार्य

नगर निगम मेयर सत्या कौंडल ने बताया कि स्मार्ट सिटी के तहत यह दुकानें हिमुडा के तहत बनाई गई थी, लेकिन ऊंचाई ज्यादा होने के चलते इन दुकानों की ऊंचाई अब कम की जा रही है.उन्होंने कहा कि दुकानों की ऊंचाई को लेकर मामला कोर्ट में था अब कोर्ट के आदेश पर इनकी ऊंचाई कम की जा रही है.

स्मार्ट सिटी के तहत 202 तक शहर में कई विकासकार्य को पूरा किया जाएगा

उन्होंने कहा कि शहर में जगह-जगह स्मार्ट सिटी के तहत एमसी की दुकानों का जीर्णोद्धार किया जा रहा है, जिसमें लोअर बाजार,रामबाजार,विकासनगर, कसुम्पटी समेत जगह जगह दुकानों को प्री फैब्रिकेटेड बनाया जा रहा है, ताकि सभी दुकानें एक जैसी लगी.इसके अलावा स्मार्ट सिटी के तहत अन्य कार्य भी किये जा रहे हैं जिसमें सड़कों को चौड़ा किया जा रहा है इसके अलावा पार्क और पार्किंग का निर्माण किया जा रहा है.उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत 202 तक शहर में कई विकासकार्य को पूरा किया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here