Special report when torn shoes tell story of a poor artist gulshan and district magistrate manish kumar verma gesture win heart nodmk3

0
179


मनोज सिंह पटेल

जौनपुर. हमलोग अक्‍सर साहित्‍यकारों और कलाकारों की खराब माली हालत के बारे में सुनते हैं. दशकों के बाद भी देश में बड़ी तादाद में हुनरमंद कलाकार ऐसे हैं, जो गरीबी का दंश झेल रहे हैं. आज हम आपको ऐसे ही कलाकार के बारे में बताने जा रहे हैं. यह घटना उत्‍तर प्रदेश के जौनपुर की है. कलेक्‍टर मनीष कुमार वर्मा कलाकारों के सम्‍मान समारोह में शामिल होने पहुंचे थे. उसी वक्‍त उनकी नजर एक कलाकार के फटे जूतों पर पड़ी. डीएम मनीष कुमार वर्मा ने तत्‍काल उस हुनरमंद कलाकार की स्थिति का अंदाजा लगा लिया. उन्‍होंने कलाकार को बुलाया और उनके परिवार के बारे में पूछताछ की. इसके बाद उन्‍होंने उस कलाकार को कुछ पैसे देकर नए जूते खरीदने को कहा.

दरअसल, हम बात कर रहे हैं युवा पेंटर गुलशन की. गुलशन की पेंटिंग्‍स को देखकर कलेक्‍टर साहब बहुत प्रभावित हुए थे. पेंटर गुलशन के परिवार की माली हालत कुछ ठीक नहीं है. किसी तरह वह अपने परिवार का भरण-पोषण करते हैं. जब कलेक्‍टर मनीष कुमार की नजर गुलशन के फटे जूतों पर पड़ी तो उन्‍होंने उनके परिवार की माली हालत के बारे में समझने में तनिक भी देर नहीं लगाई. गुलशन की पेंटिंग्‍स से प्रभावित डीएम मनीष कुमार ने फौरन कलाकार को बुलाया और उनसे उनके परिवार के बारे में जानकारी हासिल की. इसके बाद उन्‍होंने गुलशन को कुछ रुपये देते हुए उन्‍हें नए जूते खरीदने को कहा.

UP Chunav Video: BJP प्रत्‍याशी की खुले मंच से धमकी- वोट नहीं दिया तो होमगार्ड से बुरी हो जाएगी हालत

 पेंटिंग्‍स के सहारे चल रही जिंदगी की गाड़ी
युवा कलाकार गुलशन बताते हैं कि वह हर महीने तकरीबन 10 से 12 हजार रुपये कमा लेते हैं. इसी के सहारे उनके परिवार का गुजर-बसर होता है. बता दें कि मतदाता दिवस के मौके पर कलाकारों को बुलाकर उनसे पेंटिंग्‍स बनवाई गई थीं. कलेक्‍टर मनीष कुमार गुलशन की पेंटिंग से काफी प्रभावित हुए थे. कलेक्‍टर मनीष कुमार वर्मा ने सम्‍मान समारोह के दौरान जब गुलशन के पैरों में फटे जूते देखे तो उनका भी दिल पिघल गया. उन्‍होंने तत्‍काल गुलशन की मदद के लिए हाथ बढ़ाया.

गरीबों के मददगार अफसर
आपको बता दें कि इससे पहले जौनपुर के जिलाधिकारी रहे दिनेश कुमार वर्मा अक्सर गांव और शहर के आम नागरिकों के बीच सहज भाव से रहते हुए अपने काम को लेकर चर्चा में रहते थे. जनता के बीच अक्‍सर उनके काम की चर्चा होती थी. आज भी दिनेश कुमार की चर्चा होती है. जौनपुर के एसएसपी अजय साहनी द्वारा सड़क किनारे रहने वाले गरीब लोगों की मदद करने की खबर भी आ चुकी है.

आपके शहर से (लखनऊ)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Jaunpur news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here