Stock market deteriorated again Sensex Nifty fell drastically – Business News India

0
166


Share Market Live Update: लगातार 5 सत्र शेयर बाजार बीमार रहने के बाद मंगलवार को दोपहर बाद ठीक हुआ, लेकिन गणतंत्र दिवस के अवकाश के बाद आज खुला तो उसकी सेहत फिर बिगड़ गई। बीएसई का 30 स्टॉक्स पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 540.77 अंकों की गिरावट के साथ 57,317.38 के स्तर पर खुला तो निफ्टी ने 17062 के स्तर से आज दिन के कारोबार की शुरुआत की ।

चंद मिनट बाद ही सेंसेक्स 994 अंकों का गोता लगाकर 56,863.93 पर आ गया तो निफ्टी भी 279.50 अंक टूटकर 16,998.45 पर था। शुरुआती कारोबार में निफ्टी 50 का केवल एक स्टॉक हरे निशान पर था। यही हाल सेंसेक्स में भी था। 

वेदांता समूह विभिन्न कारोबार को अलग करने के बारे में मार्च अंत तक करेगा निर्णय: अनिल अग्रवाल

धातु और खनन क्षेत्र की कंपनी वेदांता लिमिटेड अपने महत्वपूर्ण कारोबारों को अलग-अलग सूचीबद्ध कंपनियों के तहत लाने संबंधी प्रस्ताव की रूपरेखा की घोषणा मार्च माह के अंत तक करेगी।  कंपनी के चेयरमैन अनिल अग्रवाल ने कहा कि मूल्यवर्द्धन के लिए वह कॉरपोरेट ढांचे को सरल और सुव्यवस्थित करना चाहते हैं।

 जिंक कारोबार पहले से ही एक सूचीबद्ध सहायक कंपनी के तहत है, अब योजना एल्युमीनियम, लोहा तथा इस्पात और तेल तथा गैस व्यवसायों को सूचीबद्ध संस्थाओं के रूप में अलग करने की है।  अग्रवाल ने ‘पीटीआई-भाषा’ से बातचीत में कहा कि इससे सभी हितधारकों के लिए मूल्यवर्द्धन होगा और ऐसे कारोबार खड़े होंगे जो अलग-अलग बाजार स्थितियों का बेहतर तरीके से लाभ उठा सकेंगे, दीर्घकालिक वृद्धि देंगे और रणनीतिक साझेदारी को संभव बनाएंगे।

उन्होंने कहा, ”कारोबारों को अलग-अलग करना (डीमर्जर) एक प्राकृतिक चीज है। बाजार बढ़िया है और उत्पादन अच्छा चल रहा है। इसलिए हमारा मानना है कि अलग-अलग कंपनियां होने से मूल्यवर्द्धन होगा। लगभग डेढ़ महीने में या मार्च अंत से पहले हम पूरी रूपरेखा की घोषणा करेंगे।”   वेदांता ने पिछले वर्ष नवंबर में घोषणा की थी कि उसके निदेशक मंडल ने एक उप समिति का गठन किया है जो एल्युमीनियम, लोहा और इस्पात, गैस और तेल के कारोबार को अलग-अलग सूचीबद्ध कंपनियों में बदलने की संभावनाओं का आकलन करेगी।
 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here