TCS worlds second most valuable IT brand, Infosys fastest growing | TCS बनी दुनिया की दूसरी सबसे मूल्यवान IT कंपनी, ब्रांड वैल्यू 12.5% से हुई 16.78 अरब डॉलर

0
227


ब्रांड फाइनेंस 2022 की ग्लोबल रिपोर्ट के अनुसार, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) दुनिया भर में आईटी सेवाओं में दूसरा सबसे मूल्यवान ब्रांड है। एक्सेंचर अभी भी टॉप पर बना हुआ है।

Published: January 26, 2022 02:38:17 pm

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) पूरी दुनिया में दूसरी सबसे मूल्यवान IT (Information Technology) सर्विसेज ब्रांड बन गई है। ब्रांड फाइनेंस की रिपोर्ट के मुताबिक टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) से पहले इस वक्त एसेंचर ब्रांड के मामले में पहले नंबर पर है। इस रिपोर्ट पर TCS ने कहा कि “इस बढ़त का श्रेय कंपनी के ब्रांड में निवेश करने वालों और उसके कर्मचारियों, ग्राहक इक्विटी और मजबूत वित्तीय प्रदर्शन को जाता है।” बता दें कि ब्रांड वैल्यू किसी भी कंपनी की कमाई की मौजूदा वैल्यू को दर्शाती है। ब्रांड फाइनेंस 2022 की ग्लोबल रिपोर्ट के अनुसार, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) दुनिया भर में आईटी सेवाओं में दूसरा सबसे मूल्यवान ब्रांड है। एक्सेंचर अभी भी टॉप पर बना हुआ है।’

TCS worlds second most valuable IT brand, Infosys fastest growing

TCS की ब्रांड वैल्यू हुई 16.786 अरब डॉलररिपोर्ट के अनुसार पिछले 12 महीनों में टीसीएस की ब्रांड वैल्यू 1.844 अरब डॉलर (12.5 फीसदी) बढ़कर 16.786 अरब डॉलर हो गई है। कंपनी ने बताया कि आईटी सर्विसेज फर्म टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) ने साल 2021 में 25 अरब डॉलर का राजस्व हासिल करने की महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल कर ली।

आईटी सेक्टर में दूसरी सबसे बड़ी ब्रांड वैल्यू कंपनी

ब्रांड फाइनेंस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और अध्यक्ष, डेविड हैग ने कहा, ‘TCS पहली बार इस क्षेत्र में दूसरा सबसे मूल्यवान ब्रांड बना है और ये आईटी सेवाओं की रैंकिंग में लगातार सुधार कर रही है। पिछले साल TCS ने अपनी वैश्विक ब्रांड स्थिति को मजबूत किया और इस कंपनी में निरंतर हो रहे निवेश का परिणाम है कि ये आज आईटी सेक्टर में दूसरी सबसे बड़ी ब्रांड वैल्यू कंपनी बन गई है।’

आईटी सेक्टर में इंफ़ोसिस दूसरी सबसे बड़ी ब्रांड वैल्यू कंपनीइस रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि इंफोसिस, तीसरे स्थान पर, वैश्विक स्तर पर सबसे तेजी से बढ़ते आईटी सेवा ब्रांड के रूप में उभरा है। पिछले वर्ष से इन्फोसिस में 52 प्रतिशत मूल्य वृद्धि हुई है। इंफ़ोसिस और टीसीएस से पहले अमेरिकी बहुराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी IBM ब्रांड वैल्यू के मामले में दूसरे स्थान पर थी, परंतु भारतीय कंपनियों ने इसे पीछे छोड़ दिया है।

ब्रांड फाइनेंस ने स्वयं अपनी रिपोर्ट में माना है कि भारतीय आईटी कंपनियां बेहतरीन प्रदर्शन कर रही हैं। इनकी ब्रांड वैल्यू तो बढ़ रही है, परंतु अमेरिकी कंपनी पीछे रह गई है ।

यह भी पढ़ें

इन कंपनियों में जल्द ही खत्म होने वाला है वर्क फ्रॉम होम, ये रही लिस्ट

यह भी पढ़ें

TCS Infosys ने MP के बेरोजगारों के लिए की यह बड़ी पहल

अगली खबर



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here