Traffic jam between Crossing Republic ghaziabad and Greater Noida– News18 Hindi

0
18


नोएडा. गाजियाबाद की क्रॉसिंग रिपब्लिक और ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के बीच हर रोज दिन में कम से कम दो बार लगने वाला ट्रैफिक जाम अब जल्द ही खत्म हो जाएगा. खासतौर से क्रॉसिंग रिपब्लिक (Crossing Republic) एरिया में रहने वाले हजारों लोगों को रोज-रोज के ट्रैफिक जाम (Traffic Jam) से छुटकारा मिल जाएगा. सबसे ज्यादा जाम के हालात रिछपालगढ़ी में होते हैं. मिनटों का सफर घंटों का हो जाता है. अब गाजियाबाद अथॉरिटी की कोशिशों के चलते यहां के किसान (Farmer) सड़क के लिए जमीन देने को तैयार हो गए हैं.

जानकारों की मानें तो गाजियाबाद की क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसाइटी में करीब 50 हजार से ज्यादा लोग रहते हैं, लेकिन उन्हें ग्रेटर नोएडा तक जाने के लिए रिछपालगढ़ी होकर सफर करना पड़ता है. रिछपालगढ़ी में खासतौर पर सुबह-शाम लगने वाले जाम के चलते लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है. हालांकि, परेशानी उन्हें भी उठानी पड़ती है जो ग्रेटर नोएडा से क्रॉसिंग रिब्लिक तक आते-जाते हैं.

गाजियाबाद अथॉरिटी की कोशिशों के चलते रिछपालगढ़ी के किसान अपनी जमीन देने को तैयार हो गए हैं, जिसके चलते अब रिछपालगढ़ी में सड़क बनने का रास्ता साफ हो गया है. जमीन देने के साथ ही किसानों की शर्त है कि उन्हें जमीन का मुआवजा नए कानून के तहत बढ़ी हुई रेट से दिया जाए. अगर ऐसा नहीं हुआ तो वो अपनी जमीन सड़क के लिए नहीं देंगे.

Delhi-NCR को भी मिलेगा गंगा एक्सप्रेसवे का फायदा, जानिए कैसे

सिग्नेचर ब्रिज से गाजियाबाद-ग्रेनो का सफर होगा आसान

रिछपालगढ़ी में बनने वाली इस सड़क से बड़ा फायदा होगा ही, लेकिन पहले से बन रहे सिग्नेचर ब्रिज से भी ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में रहने वालों को बड़ा फायदा होगा. जहां नोएडा के एक दर्जन से ज़्यादा सेक्टर और ग्रेटर नोएडा को इस फ्लाईओवर का बड़ा फायदा मिलेगा. वहीं, दिल्ली से गाज़ियाबाद, हापुड़ जाने वाले भी लम्बे ट्रैफिक जाम से बचेंगे.

पर्थला गोलचक्कर पर एफनजी रोड सेक्टर 72 से किसान चौक की तरफ जाने वाली सड़क पर अक्सर जाम के से हालात रहते हैं. सुबह-शाम ऑफिस के वक्त एक लम्बा जाम लगना आम बात है. 10 मिनट का सफर 30 से 45 मिनट का हो जाता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here