Una Girl Murder Case victim girl to get married next month hpvk

0
89


ऊना. हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना (Una) के थाना गगरेट के तहत गांव जाडला कोईड़ी में धार्मिक संस्थान का पुजारी हत्या का आरोपी सामने आया है. 24 वर्षीय मंदिर के सेवादार ने 22 साल की युवती की हत्या करके उसकी लाश को मंदिर के ही पीछे एक खेत में गाड़ दिया था. युवती की हत्या (Una Girl Murder) की खबर सामने आते ही ग्रामीण भड़क उठे. जमीन में गड़ी युवती की लाश को बाहर निकालते ही ग्रामीण भड़क उठे और हत्या के आरोपी (Accused) इस सेवादार को उनके हवाले करने की मांग पर अड़ गए. बताया जा रहा है कि अगले माह ही युवती की शादी होनी थी. आरोपी विकास दुबे यूपी से है और चार साल से यहीं रहता था.

मंदिर परिसर में तोड़फोड़
पुलिस ने आरोपी को भीड़ से बचाने के लिए मोर्चाबंदी की लेकिन ग्रामीणों ने मंदिर का मुख्य गेट तोड़कर उसे बाहर निकालने के प्रयास शुरू कर दिए. इतना ही नहीं, इस दौरान पुलिस के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ जमकर धक्का-मुक्की भी हुई. एक तरफ जहां दरवाजे पर भीड़ युवक को बाहर निकालने की मांग को लेकर अड़ी रही. वहीं दूसरी, तरफ मंदिर परिसर के बाहर से उस कमरे की खिड़की को तोड़ना भी लोगों ने शुरू कर दिया. इस कमरे में आरोपी को रखा गया था.

अतिरिक्त पुलिस बुलाई
मंदिर परिसर में कानून व्यवस्था बिगड़ती देख और भीड़ को काबू करने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल को मौके पर बुलाया गया. एसपी ऊना अर्जित सेन ठाकुर समेत डीएसपी हेड क्वार्टर रमाकांत ठाकुर और डीएसपी हरोली अनिल मेहता नजदीकी तमाम पुलिस चौकियों और थानों के पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे. कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस के जवानों ने परिस्थिति पर काबू पाया. घटना के दौरान ग्रामीणों ने पत्थरबाजी भी की, जिसमें पुलिस जवान और मीडिया कर्मी घायल हो गए. भारी पुलिस बल की तैनाती के बाद पहले युवती के शव को मंदिर परिसर से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. वहीं, कछ देर बाद फिल्मी स्टाइल में पुलिस जवानों की भीड़ के बीच हत्या आरोपी को मंदिर परिसर से बाहर निकाल कर ले जाया गया.

पुलिस कर्मी के सिर में चोट
डीएसपी अंब युवा आईपीएस अधिकारी सृष्टि पांडे और गगरेट के एसएचओ दर्शन सिंह पुलिस बल के साथ ही उस कमरे के मुख्य द्वार पर डटे रहे, जहां आरोपी को रखा गया था, लेकिन आरोपी को जनता के हवाले करने की मांग को लेकर उग्र हुई भीड़ ने पुलिस के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ भी जमकर धक्का-मुक्की की. घटना के दौरान पुलिस के एक ड्राइवर का सिर तक फट गया, जबकि डीएसपी के कंधे पर लगे स्टार बैज को भी उग्र भीड़ ने तोड़ दिया.

एसडीएम को बंधक बनाया
कुछ देर बाद मंदिर परिसर में ही सभी मीडिया कर्मियों को भीड़ ने बाहर खदेड़ते हुए पुलिस के अधिकारियों और कर्मचारियों समेत एसडीएम गगरेट विनय मोदी को भी अंदर बंधक बना लिया. बिगड़ती कानून व्यवस्था को देखते हुए फौरन एसपी को मामले की इत्तला दी गई. घटना की जानकारी मिलते ही एसपी ऊना अर्जित सेन ठाकुर समेत डीएसपी हेड क्वार्टर रमाकांत ठाकुर और डीएसपी हरौली अनिल कुमार मेहता अपनी अपनी टीमों के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए. उग्र हुई भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी. पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में पहुंची टीमों ने मंदिर के द्वार तोड़कर अंदर प्रवेश किया. जिसके बाद परिसर में जुटी भीड़ को बाहर निकाला गया.

आरोपी को मंदिर परिसर से बाहर ले जाने के लिए पुलिस द्वारा एक रिहर्सल भी की गई और इस दौरान भीड़ ने उस वाहन पर पत्थरबाजी कर डाली, जिसमें आरोपी को ले जाए जाने की रिहर्सल की जा रही थी, जिसमें एक मीडिया कर्मी भी घायल हुआ. इस दौरान पुलिस ने कड़े पहरे के बीच पहले युवती के शव को मंदिर परिसर से बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया, जबकि इसके बाद फिल्मी स्टाइल में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच गाड़ियों के लंबे काफिले में हत्या के आरोपी को मंदिर परिसर से बाहर निकाला गया.

एमकॉम की छात्रा थी नेहा
बताया जा रहा है कि 22 साल की युवती पीजी कॉलेज ऊना में पढ़ाई कर रही थी. जबकि अगले ही माह इस युवती की शादी भी तय की गई थी. युवती शनिवार बाद दोपहर करीब 1:30 बजे से लापता बताई गई थी, जिसकी तलाश उसके परिजन समेत सभी ग्रामवासी कर रहे थे. इसी बीच संदेह होने पर ग्रामीणों ने मंदिर के 24 वर्षीय सेवादार विकास दुबे से जब कड़ी पूछताछ की तो उसने युवती का शव मंदिर के ही पीछे एक खेत में दफनाए जाने की बात कबूली और इसी से युवती के गुमशुदा होने के इस पूरे मामले का पटाक्षेप हुआ.

क्या बोले एसपी
एसपी ऊना अर्जितसेन ठाकुर ने बताया कि जाडला कोइड़ी में स्थानीय युवती की हत्या कर शव को मंदिर के ही पीछे खेत में दफनाए जाने की वारदात सामने आई है. आरंभिक जांच के बाद पुलिस ने हत्या आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. हत्यारोपी को भीड़ के हवाले किए जाने की मांग पर ग्रामीणों ने कानून व्यवस्था को भंग किया था, लेकिन पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद परिस्थिति पर काबू पा लिया है. मृतक युवती के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. हत्या के आरोपी को भी मंदिर परिसर से निकालकर पुलिस की हिरासत में ले लिया गया है. मामले की जांच शुरू कर दी गई है. घटना में कुछ पुलिस कर्मचारियों के साथ धक्का-मुक्की भी हुई है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here