UP के इस जिले की महिलाएं नहीं करती सोलह श्रृंगार! जानिए किसने दिया था इस गांव को श्राप

0
17


रिपोर्ट- चंदन सैनी

मथुरा: मथुरा के कस्बा सुरीर में एक ऐसा गांव है, जहां कि सुहागन महिलाएं सोलह श्रृंगार नहीं करती हैं. मथुरा से करीब 60 किलोमीटर दूर स्थित है सुरीर गांव में भी हर दिन आम दिनों की तरह ही होता है. लेकिन यहां रहने वाली 30 हजार की आबादी वाली महिलाओं ने एक साल भी करवा चौथ नहीं मनाया है. इतना ही नहीं यहां से ना तो कोई बारात निकलती है और ना ही कोई कोई दुल्हन की तरह सजती-संवरती है.

बताया जाता है कि करीब 500 वर्ष पूर्व नजदीक के ही गांव राम नगला का एक ब्राह्मण दंपति यहां से अपनी पत्नी को लेकर गुजर रहा था. ब्राह्मण दंपति को विदाई में एक भैंसा मिला था. ये जोड़ा जैसे ही सुरीर के नजदीक पहुंचा कि स्थानीय लोगों ने यह कहते हुए दंपति को रोक लिया कि भैंसा उनका है. हालांकि ब्राह्मण दंपति ने लोगों को समझाने की कोशिश किए बताए भी कि उन्हें विदाई में ससुराल से मिला है. लेकिन किसी ने एक नहीं सुनी और उसकी पिटाई कर हत्या कर दी.

पति के गम में ब्राह्मण महिला ने गांव वालों को श्राप दे दिया कि जैसे मैं सुहागिन होते विधवा हो गई. ठीक वैसे ही यहां की भी महिलाएं सुहागिन होते ही विधवा हो जाएंगी. इतना कहते ही ब्रह्मण महिला की भी मौत हो गई.

गांव वालों को लगा ब्राह्मण महिला का श्राप
सुरीर गांव के पूर्वजों की गलती आज भी लोगों को भुगतनी पड़ रही है. अपने पति को खोने के बाद वियोग में जान देने वाली ब्रह्मण महिला जहां सती हुई है. वहां आज एक मदिर बना हुआ है. जहां नए नवेले जोड़े को बारात और शादी से पहले ले जाकर सती मंदिर का आशीर्वाद दिलाया जाता है. मंदिर में माथा टेकना पड़ता है. उसके बाद ही यहां से अपनी बारात लेकर निकले हैं.

गांव की महिलाओं ने बताई सच्चाई
NEWS 18 LOCAL से बात करते हुए नर्मदा, गोरी और बबिता समेत अन्य महिलाओं ने बताया कि हम लोग करवा चौथ का व्रत नहीं रखते और ना ही नई दुल्हन को रखने देते हैं. बबिता ने बताया कि, 2014 में उसकी शादी हुई थी. तब से लेकर आज तक उसने ना तो कभी सोलह श्रृंगार किया है और ना ही व्रत रखा है. वहीं गौरी और नर्मदा ने बताया कि 10-10 साल हमारी शादी को हो गए हैं. लेकिन हम लोगों ने भी आज तक व्रत तक नहीं रखा है. सुरीर कलां निवासी सुहनेरी देवी ने सती के श्राप के बारे में बताते हुए कहा कि मैं 103 साल की हो गई हूं. 80 साल शादी को हो गए हैं.

आज तक हमने करवा चौथ का वृत नहीं रखा है. दरअसल सती के श्राप से सभी महिलाएं डरी हुई हैं. चाहे वह नई नवेली दुल्हन हो चाहे बुजुर्ग महिला हो.

Tags: Karva Chauth, Marriage news, Mathura news, UP news, Up news in hindi, Wedding story



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here