UP: घट गई अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में आने वाले विदेशी छात्रों की संख्या, जानें क्या है बड़ी वजह

0
63


रिपोर्ट – वसीम अहमद

अलीगढ़: अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बिगड़े हालात और कोरोना के बाद एएमयू में विदेशी छात्रों की संख्या घट रही है. जिसको देखते हुए अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) के इंटरनेशनल स्टूडेंट सेल के एडवाइजर एसअली नवाज़ जैदी लगातार विदेशी छात्रों के संपर्क में हैं, और उनकी समस्याओं पर गौर कर रहे हैं. ताकि आगामी वक्त में संख्या बढ़ सके.

NEWS 18 LOCAL से बात करते हुए अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के इंटरनेशनल स्टूडेंट सेल, एडवाइजर एस.अली नवाज़ जैदी बताते हैं कि कोविड 19 के मद्देनजर 2 साल के बाद अब यूनिवर्सिटी पूरे तरीके से खुल पाई है. कोविड-19 बाद ही इसका पता चल गया गया था. एएमयू में विदेशी स्टूडेंट की तादाद कम होने लगी है. क्योंकि पॉलीटिकल कंडीशन इकोनामिक कंडीशन पूरी दुनिया में डिस्टर्ब हुई है.

क्या कहते हैं आंकड़े?
AMU में दाखिला लेने वाले विदेशी छात्र-छात्राओं के आंकड़ों की बात करें तो 1997 में हमारे यहां विदेशी छात्रों की संख्या 747 के आसपास थी. तकरीबन 37 देशों का प्रतिनिधित्व था. लेकिन अब मौजूदा हालात में 338 विदेशी छात्र-छात्राएं एएमयू में हैं. वहीं मौजूदा समय में 21 देशों का रिप्रेजेंटेशन कर रहे हैं. लेकिन यह बातें भी गौर करने वाली हैं. छात्र ऐसी चीजें भी बता रहर रहे हैं, जिन पर हमें ध्यान देने की जरूरत है. इसलिए हम उनसे बातचीत कर रहे हैं.

क्या फीस वृद्धि भी एक वजह है?
AMU इंटरनेशनल स्टूडेंट सेल एडवाइजर जैदी ने बताया कि छात्रों से जब हमने संवाद किया तो उनका कहना था कि फीस स्ट्रक्चर कुछ ज्यादा है. जबकि कुछ प्राइवेट संस्थानों मे फीस स्ट्रक्चर कम है. दरअसल लास्ट ईयर ही यहां फीस बढ़ाई है वो भी एक इश्यू है. क्योंकि बेहतर एजुकेशन की क्वालिटी के लिए इकोनॉमिक का बेहतर होना भी बहुत जरूरी है.

वहीं जैदी ने बताया कि, पिछले सालों में विदेशी छात्र कम हुए हैं. अभी 2022/23 के एडमिशन चल रहे हैं. उम्मीद है की अभी विदेशी छात्रों की संख्या बढ़ेंगी.

Tags: Aligarh Muslim University, Aligarh news, Aligarh University, HRD ministry, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here