UP: जयमाला के वक्त हुआ अंधेरा तो चलने लगे लाठी-डंडे, दुल्हन ने ऐसा क्या कहा कि बैरंग लौटी बारात

0
33


सैयद क़याम रज़ा,

पीलीभीत: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में वर और वधू पक्ष के बीच शादी के दौरान बात ऐसी बिगड़ी कि बारात थाने पहुंच गई. पीलीभीत में बारातियों और लड़की पक्ष के बीच शादी के दौरान जनरेटर बन्द होने जैसी मामूली बात को लेकर आपस में कहासुनी होने पर जमकर लाठी-डंडे चले, जिसमें बराती पक्ष के कई लोग घायल हुए हैं. इस मारपीट में एक युवक के सिर में गंभीर चोट आई है, वहीं लड़की ने शादी करने से मना कर दिया. इस पर लड़का पक्ष व लड़की पक्ष दोनों थाने पहुंच गए.

इस मामले पर थानाध्यक्ष आंचल सिंह का कहना है कि दोनों पक्ष बाद में बिना किसी कार्रवाई के अपने-अपने घरों को चले गए. घटना थाना बिलसंडा क्षेत्र की है. दरअसल, जनपद शाहजहांपुर के थाना कांठ क्षेत्र के जोरावन गांव रहने वाले रविंद्र पाल ने अपने बेटे रजनीश कुमार की शादी जनपद पीलीभीत के थाना बिलसंडा क्षेत्र के मुड़िया बिलहरा गांव के रहने वाले मोहनलाल की बेटी स्वाति के साथ तय की थी. बारात रात में आई, तभी बताया जा रहा है कि दरवाजे पर जयमाला के समय अचानक जनरेटर बंद हो गया था.

आरोप है कि इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई. इसके बाद लड़की पक्ष ने शादी ना करने की बात कहकर लड़का पक्ष का जेवर रख लिया. मामला इतना बिगड़ गया कि लड़की पक्ष के लोगों ने बारातियों की लाठी-डंडों पिटाई की, जिसमें दूल्हा और उसके चाचा राम किशोर व दोस्त दीपक यादव को गंभीर चोट लगी और वे घायल हो गए.

बताया जा रहा है दीपक के सिर में गंभीर चोट आने के चलते अस्पताल भर्ती होना पड़ा. इसके बाद दूल्हा पक्ष थाने पहुंच गया और पुलिस से कार्रवाई की मांग की. हालांकि, इसके बाद दुल्हन भी थाने पहुंच गई और दूल्हा पक्ष के लोगों पर उसके भाई को जान से मारने की धमकी का आरोप लगाया. साथ ही थाने पर भी दुल्हन ने शादी से इनकार कर दिया. थाना प्रभारी आंचल का कहना है कि दोनों पक्ष थाने आए थे, बाद में दोनों ने तहरीर ही नहीं दी, जिसके चलते कोई कार्रवाई नहीं की गई है.

Tags: Pilibhit news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here