UP: डायबिटीज मरीजों के लिए राहत भरी खबर, KGMU में करा सकेंगे मोतियाबिंद का ऑपरेशन

0
51


रिपोर्ट: अंजलि सिंह राजपूत

लखनऊ: डायबिटीज (Diabetes) मरीजों के लिए अच्छी खबर है. अब डायबिटीज के मरीजों का भी मोतियाबिंद न सिर्फ समय से पकड़ में आएगा बल्कि आसानी से अपना ऑपरेशन भी करा सकेंगे. यह संभव होगा किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज (KGMU) के नेत्र रोग विभाग में लगाई गई ऑप्टिकल कोहरेंस टोमोग्राफी (OCT) मशीन के जरिए. जो कि एक स्कैनर की तरह काम करती है. इस मशीन की खासियत यह है कि इसमें आंख की जांच करने के लिए किसी भी तरह का न तो कोई इंजेक्शन लगाया जाता है और न ही कोई आंख में दवा डालनी पड़ती है. यह मशीन बारीक से बारीक रेटिना की दिक्कतों को भी आसानी से पकड़ लेगी. जिससे डायबिटीज मरीजों की आंख से जुड़ी बीमारियों को सही समय पर इलाज शुरू हो जाएगा. इसकी जांच मात्र 500 रूपए में होगी.

आंखों के लिए वरदान साबित होगी मशीन
किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के प्रवक्ता डॉ. सुधीर ने बताया कि ऑप्टिकल कोहरेंस टोमोग्राफी से किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के नेत्र रोग विभाग में जांच शुरू हो चुकी है. इस मशीन के जरिए सिर्फ 2 मिनट में आंखों की रेटिना की परतों में चाहे किसी भी तरह की दिक्कत हो जैसे वह मोटी हो गई हो या कोई भी दिक्कत हो उसे आसानी से पकड़ा जा सकेगा. मोतियाबिंद की वजह से जो डायबिटीज के मरीज होते हैं उनकी रेटिना की जांच सामान्य मशीन और नॉर्मल लाइट से नहीं की जा सकती.

इसमें दिक्कत आती है जिस वजह से पहले डायबिटीज मरीजों को मोतियाबिंद की जांच के लिए परेशान होना पड़ता था. ऐसे में सही समय पर जांच के जरिए इलाज हो सकेगा.

उन्होंने यह भी बताया कि उम्र के साथ आंखों में जो दिक्कतें आ जाती हैं उसको भी मशीन आसानी से पकड़ लेगी. इस मशीन की करीब 10 लाख रुपये कीमत बताई जा रही है.

Tags: Eyes, KGMU Student, Lucknow news, UP news, Yogi government



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here