UP: बस्ती में फैल रहा है अवैध शराब का काला कारोबार! आंकड़े देख हो जाएंगे हैरान

0
10


रिपोर्ट- कृष्ण गोपाल द्विवेदी

बस्ती. यूपी के बस्ती में आबकारी विभाग की उदासीनता नजर आ रही है. जिसकी वजह से अवैध शराब का कालाधंधा जमकर फलफूल रहा है. डीआईजी बस्ती परिक्षेत्र द्वारा परिक्षेत्रीय जनपदों में अवैध शराब और मादक पदार्थों के रोकथाम हेतु अभियान चलाया गया. इसी क्रम में बस्ती में 102 स्थानों पर दबिश दिया गया. बड़े पैमाने पर छापेमारी कर अवैध शराब के ठिकानों को ध्वस्त करके 38 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया. इन लोगों के पास से 4357 लीटर अवैध शराब भी बरामद किया गया.

आंकड़े बताते हैं कि अभी तक इस पर कोई भी अंकुश नहीं लगा सका है. जिससे बस्ती में अवैध शराब और मादक पदार्थों का गोरखधंधा जमकर फलीभूत हो रहा है. बस्ती में परशुरामपुर, छावनी, मुंडेरवा थाना अंतर्गत अवैध शराब का काला कारोबार आज भी चरम पर है.

आंकड़ों पर डालते है नजर
अगर आंकड़ों की बात करे तो जनपद में 2022 में अब 790 मुकदमा दर्ज करके 853 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जिनके पास से 26671 लीटर अवैध शराब बरामद भी किया गया है. व 65 लीटर स्प्रिट भी बरामद किया गया है. वही अगर नारकोटिक्स की बात की जाए तो इसमें 157 मुकदमा दर्ज करके 163 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है. जिनके पास से 185 किलोग्राम गंजा, 0.603 ग्राम चरस, 2 किलोग्राम स्मैक, 20030 नशीली गोलिया बरामद की गई हैं. कमोबेश ये आंकड़ा लगभग बीते हर साल का रहा है. जहां आबकारी विभाग इसपर अंकुश लगाने में फेलियर साबित हुआ है.

धड़ल्ले से चल रहा अवैध कारोबार
अब सवाल यह उठता है कि बिना आबकारी विभाग के जानकारी के अवैध शराब का गोरखधंधा कैसे संचालित हो सकता है. शराब के कारोबारी अपने अवैध शराब का कारोबार बेधड़क चला रहे हैं. जब पुलिस का छापा पड़ता है. तब पता चलता है कि अवैध शराब का कारोबार किस स्तर पर संचालित हो रहा है. आबकारी के अधिकारी सब कुछ जानते हुए भी अपने आंखों पर पर्दा डाले रहते हैं. जब कोई जान चली जाती है तब जाकर दिखावटी एक्शन लेते हैं.

राजस्व में भारी नुकसान
अवैध शराब के कारोबार में वृद्धि होने से प्रदेश और देश के राजस्व को भी भारी नुकसान पहुंच रहा है. सरकारी शराब जहां अपने फिक्स रेट में मिलता है. तो वही अवैध शराब कम पैसे में ही मिल जाता है. लिहाजा लोग कम पैसों में ही शराब का मजा ले लेते हैं.

चलाया जा रहा अभियान
मामले में डीआईजी बस्ती रेंज आरके भरद्वाज ने बताया कि अवैध शराब और मादक पदार्थों के रोक थाम के लिए सतत अभियान जारी रहेगा. पकड़े गए अभियुक्तों के विरूद्ध गैंगेस्टर की कार्रवाई की जाएगी. आगे भी टीम बनाकर जांच अभियान चलाया जायेगा. अगर इस तरह की फिर चीजे मिलती हैं, तो सम्बन्धित थानों और आबकारी विभाग के ऊपर भी कार्रवाई की जाएगी. एसपी बस्ती ने बताया कि क्राइम ब्रांच की टीम द्वारा अपराधियों के गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है.

Tags: Basti news, Illegal liquor, Liquor Mafia, UP police, Wine shop, Yogi government



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here