UP में भीषण गर्मी और उमस से नहीं मिलेगी राहत, जानिए कब तक होगी झमाझम बारिश

0
19


लखनऊ. उत्तर प्रदेश में गर्मी ने मई के महीने में पिछले 12 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है. शुक्रवार को प्रदेश में सबसे अधिक गर्म बांदा जिला रहा. यहां का अधिकतम तापमान 47.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. राजधानी के अमौसी स्‍थ‍ित आंचल‍िक मौसम व‍िज्ञान केंद्र के न‍िदेशक जेपी गुप्‍ता ने दावा करते हुए बताया कि आने वाले एक हफ्ते में गर्मी और बढ़ेगी. गुप्ता के मुताबिक आने वाले 10-12 दिनों तक बारिश का आसार नहीं है. उन्होंने बताया कि 25 मई के बाद प्रदेश के कुछ जिलों में बारिश की संभावना बन सकती है. मौसम व‍िज्ञान केंद्र के न‍िदेशक ने बताया कि राजस्थान के थार मरुस्थल से आ रही गर्म हवाओं ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है.

गर्मी के साथ उमस भी हो रही है. इसकी वजह से लगातार तापमान में बढ़ोत्तरी हो रही है. आने वाले दिनों में यूपी के कई शहरों का तापमान 49 डिग्री तक जा सकता है. बता दें कि उत्तर प्रदेश भी गर्मी से परेशान है. लू के थपेड़ों ने लोगों का घर से बाहर निकलना दूभर कर दिया है. यहां भी गर्मी का आलम ये है कि अप्रैल महीने में ही पारा 40 डिग्री पार कर गया है. शनिवार को यूपी की राजधानी लखनऊ का  अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

ज्ञानवापी परिसर में कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हुआ सर्वे, DM बोले- माहौल बिगाड़ा तो होगा सख्‍त एक्‍शन

यहां रविवार को भी मौसम का हाल कुछ ऐसा ही था. वहीं IMD की माने तो आने वाले दिनों में भी यहां भीषण गर्मी से राहत नहीं मिलने वाली है. डॉ स्वदेश सिंह ने बताया कि इस चिलचिलाती गर्मी में घर से बाहर निकलने से लोगों के बीमार पड़ने का खतरा भी बढ़ गया है. वहीं गर्मी के मौसम में बुजुर्गों और छोटे बच्चों में हीट स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है. हीट एग्जॉशन से शरीर में तेजी से डिहाइड्रेशन होने लगता है. ये गर्मी की एक आम समस्या है. अगर शरीर का तापमान 102 डिग्री फॉरेनहाइट से ज्यादा होने लगते तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी होता है.

Tags: Heat Wave, Rainfall Update, UP news, UP weather alert, Weather department, Weather news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here