UP: मेरठ में बिजली विभाग ने बांटे ताबड़तोड़ नए कनेक्शन, रोजाना हो रहे ट्रांसफार्मर में फाल्ट

0
72


रिपोर्ट- विशाल भटनागर

मेरठ: पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के सिर पर नए कनेक्शन का भूत सवार हो गया है. उपभोक्ताओं की डिमांड होते ही मेरठ शहर में नए कनेक्शन टांग दिया जा रहा है. लेकिन जिस तेजी से बिजली विभाग कनेक्शन दे रहा है. उसके हिसाब से लोड में जो बदलाव करना चाहिए उसे नजरअंदाज किया जा रहा है. नए कनेक्शन और बढ़ते लोड के कारण शहर के कई क्षेत्रों में फाल्ट की समस्या बढ़ गई है. वहीं कई ऐसे भी इलाके हैं जहां कई-कई घंटो तक बिजली ही नहीं आती है. नगर वितरण क्षेत्र की बात करें तो 6 हजार से ज्यादा इस वित्तीय वर्ष में ही कनेक्शन लगे हैं. वहीं ओवरऑल बात करे तो 40 बजार नए कनेक्शन लगे हैं.

शासन को भेजा प्रस्ताव

नगरीय वितरण निगम लिमिटेड के अधीक्षण अभियंता राजेंद्र बहादुर यादव ने बताया कि नए कनेक्शन को देखते हुए और जहां ज्यादा समस्या हो रही है. उन इलाकों का चयन कर लिया गया है. जिसका प्रस्ताव शासन को भेजा गया है. जैसे ही शासन से उसके लिए बजट निर्धारित हो जाएगा. उसके बाद ट्रांसफार्मर और वायरिंग का बदलाव कर दिया जाएगा.

जानिए फाल्ट की वजह

जागृति विहार में 100 केवी ट्रांसफार्मर है जबकि आवश्यकता 250 केवी की है. वहीं शास्त्री नगर, डी ब्लॉक, मंगल पांडे नगर, सैनिक विहार, रामलीला ग्राउंड और ज्वाला नगर में भी वर्तमान में 250 केवी ट्रांसफार्मर की क्षमता है, जबकि यहां 400 केवी क्षमता के ट्रांसफार्मर की आवश्यकता है. जिले में कनेक्शन की बात की जाए तो 7 लाख 91 हजार 255 हैं. जिसमें शहर में ही 3 लाख 18 हजार 648 कनेक्शन हैं.

अक्सर टूट जाते हैं बिजली के तार

विद्युत विभाग की लचर कार्यप्रणाली के कारण आम जनमानस को परेशानी का सामना करना पड रहा है. गर्मी के दिनों में विद्युत की अघोषित कटौती हमेशा बनी रहती है. पुराने और जर्जर हो चुके तारों को न बदलवाने के कारण आए दिन फाल्ट होते रहते हैं.

इससे कहीं न कहीं लाइन टूट जाती है. कहीं तार तो कभी फाल्ट के कारण पूरे-पूरे दिन बिजली के दर्शन नहीं हो पाते हैं.

Tags: Electricity Bills, Electricity Department, Meerut news, Power Crisis, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here