UP News: भाजपा को जिला पंचायत चुनाव में SP-BSP से मिल रही कड़ी चुनौती, देखें- लखनऊ, मेरठ और वाराणसी समेत कई जिलों की लिस्‍ट

0
20


यूपी में भाजपा को सपा और बसपा का जोरदार टक्‍कर मिल रही है.

UP Panchayat Chunav Results 2021: यूपी जिला पंचायत चुनाव में भाजपा को समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी से न सिर्फ कड़ी टक्‍कर मिल रही है, बल्कि कई सीटों पर तो करारी शिकस्‍त भी मिली है.

लखनऊ/कानपुर/वाराणसी. यूपी पंचायत चुनाव की मतगणना का सिलसिला अभी जारी है और लगातार चौंकाने वाले नतीजे (UP Panchayat Chunav Results 2021) सामने आ रहे हैं. इस बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) को जिला पंचायत चुनाव में लखनऊ, वाराणसी, अयोध्‍या, मथुरा, मेरठ और आगरा समेत कई जगह समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) और बहुजन समाज पार्टी से न सिर्फ कड़ी टक्‍कर बल्कि शिकस्‍त भी मिली है. बता दें कि इस बार चार चरण में ग्राम प्रधान, सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य के साथ जिला पंचायत सदस्य के 3,051 पदों के लिए मतदान हुआ था. वैसे अभी तक जिला पंचायत सदस्य के सभी परिणाम नहीं आए हैं, लेकिन प्रदेश के कई बड़े जिलों में भाजपा की हार के बाद योगी सरकार पर सवाल उठ रहे हैं. हालांकि अभी राज्‍य चुनाव आयोग द्वारा आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है. बहरहाल, यूपी की राजधानी लखनऊ में जिला पंचायत चुनाव में भाजपा को बड़ी हार झेलनी पड़ी है. भाजपा को जिला पंचायत सदस्य की 25 सीटों में से सिर्फ तीन पर जीत मिली है. इसके अलावा समाजवादी पार्टी ने 10, बसपा ने चार और 8 पर निर्दलीय कब्‍जा करने में सफल रहे हैं. यही नहीं, लखनऊ में मौजूदा सांसद कौशल किशोर की बहू को समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी राम प्यारी रावत ने 6 हजार वोट के अंतर से हराया है. यही नहीं, दो बार की सांसद और भाजपा प्रत्‍याशी रीना चौधरी को भी सपा समर्थित पलक रावत ने 2099 वोट से मात दी है. बता दें कि लखनऊ का जिला पंचायत अध्‍यक्ष एससी महिला के लिए आरक्षित है.

वाराणसी में सपा, मथुरा में बसपा का जलवा

आगे पढ़ें

अयोध्या और गोरखपुर में भाजपा पर भारी पड़ी सपा

यही नहीं, अयोध्‍या में जिला पंचायत की 40 सीटें हैं, जिसमें से 24 पर समाजवादी पार्टी को जीत मिली है, तो भाजपा के खाते में सिर्फ छह सीट आयी हैं. जबकि 12 सीटों पर निर्दलीय प्रत्‍याशी जीतने में सफल रहे हैं. यही नहीं, सीएम योगी के गढ़ यानी गोरखपुर में जिला पंचायत सदस्‍य की 68 पर सपा और भाजपा में जोरदार टक्‍कर चल रही है. भाजपा ने अब तक 20 सीटों पर जीत दर्ज की है, तो सपा ने 19 पर जीतने का दावा किया है. इसके अलावा बसपा ने दो, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने एक-एक सीट जीतने का दावा किया है. वहीं, गोरखपुर में 24 सीटों पर निर्दलीय प्रत्‍याशियों ने जीत का दावा किया है.

अयोध्या और गोरखपुर में भाजपा पर भारी पड़ी सपा

आगे पढ़ें

मेरठ में सपा-बसपा ने घेरा, आगरा में भी जोर आजमाइश

मेरठ में 33 जिला पंचायत सदस्‍यों के लिए हुआ चुनाव में बसपा ने 9, सपा ने सात, भाजपा और आरएलडी ने 6-6 सीट जीतने का दावा किया है. वहीं, पांच सीट पर निर्दलीय प्रत्‍याशी जीते हैं. आगरा में जिला पंचायत सदस्य के रूप में भाजपा के 19 प्रत्‍याशी चुने गए हैं. जबकि बसपा 17 जीत के साथ दूसरे नंबर पर है. वहीं, सपा को पांच तो दस सीट पर निर्दलीय कब्‍जा करने में सफल रहे हैं.

मेरठ में सपा-बसपा ने घेरा, आगरा में भी जोर आजमाइश

आगे पढ़ें

75 जिलों में चार चरणों में हुए चुनाव

बता दें कि उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में चार चरणों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए मत डाले गए थे. पहले चरण में 15 अप्रैल, दूसरे में 19 अप्रैल, तीसरे में 26 अप्रैल और चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान हुआ था. राज्‍य में चारों चरणों में ग्राम पंचायत प्रधान के 58,194, ग्राम पंचायत सदस्य के 7,31,813, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 75,808 और जिला पंचायत सदस्य के 3,051 पदों के लिए मत डाले गये हैं. वैसे इस बार पंचायत चुनाव में भाजपा, सपा,बसपा, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन जैसी राजनीतिक पार्टियों ने भी अपने प्रत्याशी उतारे हैं. हालांकि इन पार्टियों के उम्मीदवार पार्टी के चुनाव निशान पर नहीं, बल्कि आयोग द्वारा दिए गए व्यक्तिगत चुनाव चिह्नों पर मैदान में उतरे हैं. (नोट- राज्‍य चुनाव आयोग ने अभी जिला पंचायत सदस्‍यों के निर्वाचन की आधिकारिक घोषणा नहीं की है)

75 जिलों में चार चरणों में हुए चुनाव

आगे पढ़ें

<!–

–>
<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here