UP Violence: जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा में शामिल उपद्रवियों पर पुलिस कार्रवाई जारी, अब तक 423 गिरफ्तार

0
14


लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी की निलंबित प्रवक्‍ता नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्‍मद खिलाफ विवादित टिप्‍पणी के बाद यूपी में 3 और 10 जून को जुमे के नमाज के बाद कई जिलों में हिंसा हुई थी. वहीं, यूपी पुलिस की हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई का दौर जारी है. यूपी के एडीजी कानून व व्‍यवस्‍था प्रशांत कुमार के मुताबिक, अब तक पूरे प्रदेश में 423 उपद्रवी गिरफ्तार किए गए हैं. वहीं, अभी भी फोटो और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उपद्रवियों की पहचान की जा रही है.

यूपी पुलिस के मुताबिक, अब तक 423 उपद्रवी गिरफ्तार किए गए हैं. इस दौरान सहारनपुर में 85, हाथरस में 55, अंबेडकरनगर में 41, प्रयागराज में 103, मुरादाबाद में 40, फिरोजाबाद में 20, अलीगढ़ में 8, जालौन में 5, लखीमपुर खीरी में 8 और कानपुर कमिश्नरेट में 58 उपद्रवियों की गिरफ्तारी हुई है. इसके साथ अब तक यूपी के 10 जिलों में जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा के मामले में 20 एफआईआर दर्ज हुई हैं. इस हिंसा में पुलिस-प्रशासन के 21 कर्मचारी और 14 नागरिक घायल हुए थे.

प्रयागराज हिंसा के ‘मास्टरमाइंड’ जावेद पंप समेत टॉप-10 उपद्रवी दूसरी जेलों में ट्रांसफर
यही नहीं, 3 जून और 10 जून को जुमे की नमाज के बाद हिंसा में शामिल मुख्‍य आरोपियों को पुलिस ने दूसरे जिलों की जेलों में ट्रांसफर किया है. रविवार को प्रयागराज पुलिस ने शहर के अटाला में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा के मास्टरमाइंड जावेद मोहम्मद उर्फ जावेद पंप को नैनी सेंट्रल जेल से देवरिया जेल शिफ्ट किया. वहीं, अटाला बड़ी मस्जिद के पेश इमाम अली अहमद समेत आठ अन्य उपद्रवियों को कानपुर, मैनपुरी, अलीगढ़, आगरा, बरेली और लखीमपुर खीरी जेल भेज गया है. इसके पीछे पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा कारणों का हवाला दिया है. प्रयागराज के एसएसपी अजय कुमार के मुताबिक, इन उपद्रवियों से नैनी जेल में उनके करीबी लोग मिलने पहुंच रहे थे. इससे शांति व्यवस्था को खतरा था, इसलिए इन टॉप 10 बलवाइयों को सुरक्षा कारणों से सैकड़ों किलोमीटर दूर दूसरी जेलों में शिफ्ट किया गया है.

कानपुर के उपद्रवी भी दूसरी जेलों में हुए शिफ्ट
यूपी के कानपुर में 3 जून को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा के मास्टरमाइंड हयात जफर हाशमी समेत 8 आरोपियों को सुरक्षा कारणों से कानपुर जेल से हटाकर दूसरी जेलों में शिफ्ट किया गया है. हयात जफर हाशमी को चित्रकूट जेल भेजा गया है, तो मोहम्मद राहिल, मोहम्मद सुफिया और जावेद अहमद खान समेत सात लोगों को बस्ती,पीलीभीत और सोनभद्र जेल ट्रांसफर किया गया है.

Tags: Kanpur violence, UP police, UP Violence



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here