Varanasi: जानें, ऐसा क्या है खास भगवान गणेश की इस पेंटिंग में जो वर्ल्ड ग्रेटेस्ट रिकॉर्ड में हो गई दर्ज 

0
8


वाराणसी. फाइन आर्ट्स में मास्टर डिग्री हासिल करनेवाले कलाकार तो बहुतेरे होंगे, पर वाकई फाइन आर्ट्स का मास्टर उसे ही कहा जा सकता है जिसने लीक से हटकर कोई काम किया हो. जी हां, निवेक्षा राय एक ऐसा ही नाम है. फिलहाल, वे काशी हिंदू विश्व विद्यालय (BHU) के दृश्य कला संकाय के मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स (MFA) के फाइनल इयर की छात्रा हैं, पर उन्होंने ऐसा यूनिक काम किया कि वर्ल्ड ग्रेटेस्ट रिकॉर्ड ने सलाम किया है और उनकी इस कलाकारी को बतौर रिकॉर्ड दर्ज किया है.

कलाकारों की निगाह में भगवान गणेश का रूप ऐसा है कि उनके साथ अभिनव प्रयोग किए जा सकते हैं. निवेक्षा ने भी गणेश भगवान की पेंटिंग कर अपनी प्रयोगधर्मिता का श्रीगणेश किया है. बता दें कि वाराणसी (Varanasi) की निवेक्षा राय ने भगवान गणेश की दुनिया की सबसे छोटी पेंटिंग तैयार की है. यह पेंटिंग इतनी छोटी है कि नंगी आंखों से आकृति भी स्पष्ट नहीं होगी, खूबसूरती तो खैर बहुत दूर की बात है. जाहिर है इसकी खूबसूरती देखने के लिए मैग्नीफाइंग ग्लास का इस्तेमाल करना पड़ता है. निवेक्षा ने रंगों और ब्रस का यह कमाल महज 9 एमएम लंबे-चौड़े साइज की गणेश जी की पेंटिंग में की है. निवेक्षा की इस कलाकारी को वर्ल्ड ग्रेटेस्ट रिकॉर्ड ने बतौर रिकॉर्ड दर्ज किया है.

निवेक्षा ने बताया कि वे एमएफए की स्टूडेंट हैं लेकिन उन्हें इस पेंटिंग में काफी दिक्कतें आईं. इसे बनाने के लिए भी उन्हें मैग्नीफाइंग ग्लास का इस्तेमाल करना पड़ा. ग्लास से लकीरें देखना और उसके साथ ब्रश और हाथ का संतुलन बनाना सचमुच बेहद टफ होने के साथ रोमांचकारी भी था. उन्होंने कहा कि वैसे तो इस पेटिंग को नंगी आंखों से भी देखा जा सकता है लेकिन तब वो बात नजर नहीं आएगी जो मैग्नीफाइंग ग्लास से देखने पर उभरती है. इसकी खूबसूरती मैग्नीफाइन ग्लास से ज्यादा अच्छी तरह से देखी जा सकती है.

निवेक्षा ने बताया कि बचपन से ही उनकी रुचि कला में थी. वे अपनी कलाकारी के जरिए कुछ अलग करना चाहती रही हैं. इसी सोच के साथ उन्होंने भगवान गणेश की सबसे छोटी पेंटिंग बनाने की सोची. इसकी प्रेरणा उन्हें गिनीज बुक रिकॉर्डधारी अपनी बुआ पूनम राय से मिली. पूनम राय ने कहा कि वे अपनी भतीजी की इस उपलब्धि से बेहद खुश है. पूरे परिवार में जश्न का माहौल है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : November 21, 2022, 19:55 IST



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here