Virat Kohli on DRS issue with dean elgar people watching from outside do not know story of ground

0
20


नई दिल्ली. भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने डीआरएस का विवादित फैसला डीन एल्गर के पक्ष में जाने के बाद प्रसारकों के खिलाफ अपनी टीम के मौखिक हमले का बचाव किया. उन्होंने शुक्रवार को केपटाउन टेस्ट में मिली हार के बाद कहा कि बाहर बैठे लोग मैदान पर इस तरह के व्यवहार के कारणों को नहीं जानते. कोहली और उनके साथियों ने तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन अंतिम 45 मिनट के दौरान तब अपना आपा खो दिया, जब दक्षिण अफ्रीका के कप्तान डीन एल्गर (Dean Elgar) विवादास्पद डीआरएस फैसले के कारण क्रीज पर टिके रहे.

भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी निराशा स्टंप माइक पर व्यक्त की. भारत तीसरा मैच 7 विकेट से हारने के कारण सीरीज भी 1-2 से गंवा बैठा. विराट कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘मुझे इस पर कोई टिप्पणी नहीं करनी है. हम जानते हैं कि मैदान पर क्या हुआ और बाहर बैठे लोगों को पता नहीं होता है कि मैदान पर क्या चल रहा है. मेरे लिए मैदान पर हमने जो कुछ किया, उसे सही ठहराने की कोशिश करना और यह कहना कि हम भावनाओं में बह गए…….’ कोहली ने इस वाक्य को पूरा नहीं किया.

इसे भी देखें, विराट कोहली ने डीन एल्गर से पर कसा तंज, बोले- आपको लगता है कि आप मुझे चुप कराएंगे?

कोहली ने आगे कहा, ‘अगर हम वहां पर हावी हो जाते और 3 विकेट लेते तो संभवत: वह क्षण खेल की दिशा बदल देता.’ यह घटना 21वें ओवर में घटी जबकि रविचंद्रन अश्विन की उछाल लेती गेंद सीधे एल्गर के पैड पर लगी. अंपायर मारियास इरासमस ने उंगली उठा दी लेकिन एल्गर ने डीआरएस लिया. रीप्ले से हालांकि पता चला कि गेंद विकेट के ऊपर से निकल रही थी और ऐसे में अंपायर को अपना फैसला बदलना पड़ा. इस पर भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी निराशा खुलकर व्यक्त की.

अब तक 99 टेस्ट खेल चुके कोहली ने कहा कि वह इसे विवाद नहीं बनाना चाहते हैं और उनकी टीम इससे आगे निकल चुकी है. उन्होंने कहा, ‘वास्तविकता यह है कि हमने इस टेस्ट मैच में उन पर लंबे समय तक पर्याप्त दबाव नहीं बनाये रखा और इसलिए हम मैच हार गए.’

Tags: Cricket news, DRS, Hindi Cricket News, India vs South Africa, Virat Kohli



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here