Weather Forecast: प्री मानसून में जमकर बरसेंगे बादल, इन 14 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

0
14


रायपुर. छत्तीसगढ़ ( Chhattisgarh ) में मानसून (Monsoon ) की एंट्री 10 जून तक हो सकती है. इससे पहले प्री मानसून में झमाझम बारिश की आशंका जताई गई है. मंगलवार को मौसम विभाग ने राजधानी रायपुर सहित 14 जिलों में अगले 4 घंटों के अंदर तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है. इसके साथ ही कुछ इलाकों में अंधड़ के साथ बिजली गिरने की भी आशंका है. रायपुर, सरगुजा,बलरामपुर,जशपुर,दुर्ग, कोरबा,गरियाबंद,महासमुंद,बलौदाबजार, सहित कई जिलों में भारी बारिश हो सकती है. मौसम विभाग के मुताबिक 10 जून को बस्तर ( Bastar) में मानसून प्रवेश की पूरी संभावना जताई है. मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के अनुसार एक चक्रीय चक्रवातीघेरा बिहार और उससे लगे उत्तर पश्चिम बंगाल के ऊपर 2.1 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है. प्रदेश में पश्चिमी हवा के साथ काफी मात्रा में नमी आ रही है. इस वजह से प्रदेश के कई स्थानों पर वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छीटें पड़ने की संभावना है. प्रदेश में अधिकतम तापमान में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है.

रायपुर के लालपुर स्थित मौसम विज्ञान केन्द्र के मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि भारत मौसम विभाग द्वारा 4 महीने की वर्षा ऋ तु का पूर्वानुमान जारी कर दिया गया है. चंद्रा ने बताया कि केरल में 31 मई तक मॉनसून का प्रवेश होगा और केरल से 10 जून तक बस्तर संभाग से मानसून का छत्तीसगढ़ में प्रवेश होगी. इसके बाद 15 जून तक मानसून के राजधानी रायपुर तक पहुंचने का अनुमान है और सरगुजा तक 21 जून तक मॉनसून पहुंच जाएगा. एचपी चंद्रा ने बताया कि यदि परिस्थितियां सामान्य रहती हैं तब 10 जून तक छत्तीसगढ़ में मानसून की एंट्री हो जाएगी. मौसम विभाग द्वारा पिछले 16 सालों में साल 2015 को छोडक़र केरल में मॉनसून पहुंचने का अनुमान अब तक सही रहा है. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि इस बार भी तय समय तक मानसून का प्रवेश होगा.

छत्तीसगढ़ पहुंचने में लगते हैं 10 दिन

केरल से मानसून के छत्तीसगढ़ पहुंचने में 10 दिनों का समय लगता है और मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक  जब मानसून केरल पहुंचेगा उसके 10 दिनों में ही बस्तर में मानसून प्रवेश की संभावना है. आपको बता दें कि मानसून हिंद महासागर और अरब सागर की ओर से भारत के दक्षिण-पश्चिम तट पर आने वाली हवाओं को कहा जाता है. जिनकी वजह से भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और अन्य देशों में बारिश होती है और ये हवाएं चार माह तक सक्रिय रहती हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here