Yogi Cabinet 2.0: योगी कैबिनेट हुई यंग, जानें युवा जोश और अनुभव के समीकरण के मायने

0
30


नितिका दीक्षित

लखनऊ. योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश कैबिनेट (Yogi Adityanath Cabinet) इस बार अपने 2017 के स्वरूप से युवा है. इस कैबिनेट में औसत आयु 55 से घटकर 53 हो गयी है. योगी 52 सदस्यीय कैबिनेट में सबसे कम उम्र के मंत्री पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के पोते संदीप सिंह (Sandeep Singh) हैं जिनकी उम्र 30 वर्ष है.वह हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में अपने दादा की पारम्परिक सीट अतरौली से जीते हैं. जबकि योगी कैबिनेट में सबसे ज्‍यादा उम्र के मंत्री 70 वर्षीय डॉक्टर अरुण कुमार सक्सेना हैं, जो कि तीसरी बार बरेली से जीते हैं.

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) द्वारा जारी आकड़ों के अनुसार, इन कैबिनेट सदस्यों में 36 मंत्री ऐसे हैं जिनकी उम्र 40 से 60 वर्ष के बीच में है. जबकि 16 मंत्री ऐसे हैं जिनकी उम्र 40 से 50 साल की है. वहीं, योगी कैबिनेट के 12 मंत्रियों की उम्र 60 साल से अधिक है.

जानें क्‍या है यंग कैबिनेट के मायने
राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि इस बार अनुभव और उम्र दोनों का खास ख्याल रखते हुए कैबिनेट तैयार की गयी है. एक तरफ जहां अनुभवी चेहरे विकास को प्रगति देंगे, तो वहीं युवा चेहरों को भावी नेताओं के रूप में तैयार किया जायेगा. यह पूरा निर्णय भविष्य के नेतृत्व को ध्यान में रखते हुए लिया गया है. इस बार जातीय समीकरण और उम्र का खास ख्याल रखा गया है. इसके अलावा कई सारे चेहरों को अच्छा प्रदर्शन न होने की वजह से हटाया भी गया है. वहीं, उम्र अनुभव के आधार पर ही जिम्मेदारियों का वितरण भी किया जायेगा.

UP : अखिलेश यादव बोले- मैं अब विपक्ष में बैठूंगा, सरकार की जवाबदेही के लिए करेंगे काम

योगी कैबिनेट के युवा चेहरे
केवल 30 वर्ष के संदीप सिंह को राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार ) नियुक्त किया गया है. इसके अलावा पार्टी का इकलौता मुस्लिम चेहरा 32 वर्षीय दानिश आजाद अंसारी को अल्पसंख्यक मामलों का राज्य मंत्री बनाया गया है. वहीं, हरदोई से तीसरी बार विधायक रहे 40 वर्षीय नितिन अग्रवाल को राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नियुक्त किया गया. इसके अलावा दरियाबाद से जीते सतीश चंद्र शर्मा 39 साल के हैं और उन्हें भी राज्य मंत्री बनाया गया है. बिजनौर के 41 वर्षीय सोमेंद्र तोमर को अशोक कटारिया की जगह गुर्जर चेहरे के रूप में कैबिनेट में स्थान मिला है. जबकि अपना दल (सोनेलाल) की प्रमुख अनुप्रिया पटेल के पति आशीष पटेल की उम्र 38 साल है. कैबिनेट के एक मात्र वाल्मीकि विधायक अलीगढ सीट से जीते अनूप प्रधान वाल्मीकि (40 वर्ष) के हैं. जबकि ब्राह्मण चेहरे और वरिष्ठ कांग्रेस नेता जीतेंद्र प्रसाद के बेटे जितिन प्रसाद 48 साल के हैं.

योगी कैबिनेट के अनुभवी चेहरे
2017 के कैबिनेट में 70 साल के चेतन चौहान सबसे उम्रदराज मंत्रियों में से एक थे. इस बार योगी कैबिनेट 2.0 में बरेली के विधायक डॉक्टर अरुण कुमार सक्सेना, जाट चेहरा लक्ष्‍मी नारायण चौधरी और पूर्व भाजपा अध्यक्ष सूर्या प्रताप शाही सबसे ज्‍यादा उम्रदराज हैं जिनकी उम्र लगभग 70 वर्ष है. कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना भी कैबिनेट में अनुभवी चेहरों में से एक हैं जिनकी उम्र 68 साल है. जबकि धर्मपाल सिंह 69 वर्ष के हैं. चुनाव से ठीक पहले भाजपा में शामिल हुए कुर्मी चेहरे कैबिनेट मंत्री राकेश सचान 66 साल के हैं. बेबी रानी मौर्या और गुलाब देवी दोनों की उम्र 65 वर्ष है.जबकि बसपा के पूर्व मंत्री जयवीर सिंह 61 वर्ष के हैं, तो योगी के एक और मंत्री धर्मवीर प्रजापति की उम्र 65 वर्ष है.

आपके शहर से (लखनऊ)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Bjp government, Brajesh Pathak, Kalyan Singh, Keshav prasad maurya, Sandeep Singh, Yogi adityanath



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here